कानपुर ट्रेन हादसे में आजमगढ़ के तीन युवकों की मौत, परिवार में मचा कोहराम 

कानपुर ट्रेन हादसे में आजमगढ़ के तीन युवकों की मौत, परिवार में मचा कोहराम 
kanpur rail accident

कई यात्रियों के घायल होने की खबर

आजमगढ़. कानपुर के पुखरायां स्टेशन के पास रविवार की सुबह में इंदौर से पटना जा रही पटना-इंदौर एक्सप्रेस की 14 बोगियां पटरी से उतर जाने के कारण सौ से ज्यादा यात्रियों की मौत हो गई। इस हादसे में जनपद के तीन युवक भी अपनी जान गंवा बैठे। वहीं जिले के कई यात्रियों के घायल होने की खबर है।  इंदौर से पटना आ रही एक्सप्रेस ट्रेन की विभिन्न बोगियों में जनपद के भी यात्री  शामिल थे। रविवार सुबह में अचानक हुए इस हादसे में ट्रेन में सवार तीन यात्रियों के मरने की खबर मिली है। 

गंभीरपुर थाना क्षेत्र के अरारा गांव निवासी गुलाब विश्वकर्मा (32) पुत्र स्व. रामप्यारे की भी मौत हो गई। रविवार की सुबह जैसे ही यह खबर परिजनों को मिली परिवार में कोहराम मच गया। जानकारी पाकर मृतक का बड़ा भाई मनोहर अन्य लोगों के साथ कानपुर के लिए रवाना हो गया। मृतक गुलाब मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक निजी कंपनी में लिपिक पद पर कार्यरत था। 

इसी क्रम में तरवां थाना क्षेत्र के विष्णुपुर (विसुनपूरा) गांव निवासी विवेक ऊर्फ मोनू खरवार (24) पुत्र संकठा निवासी भी हादसे का शिकार होकर अपनी जान गवां बैठा। मृतक मोनू के साथ ट्रेन की बोगी में उसके बड़े भाई अखिलेश व चचेरा भाई अजय भी सवार थे। ये दोनों भी दुर्घटना में घायल हुए है। उनका उपचार कानपुर स्थित अस्पताल में चल रहा है। 
दुर्घटना की खबर पाकर मृतक के परिवार वाले भी मौके के लिए रवाना हो गए है।

रौनापार थाना क्षेत्र के चालाकपुर ग्राम निवासी राधेश्याम यादव (35) पुत्र किसुनदेव यादव भी इस हादसे में अपनी जान गवां बैठा। इस दुर्घटना में मृतक राधेश्याम का बड़ा भाई मनिराम व भतीजी कंचन भी घायल हुए है। दोनों का उपचार कानपुर जनपद में चल रहा है। दुर्घटना की जानकारी पाकर मृतक के परिजन भी कानपुर के लिए रवाना हो चुके है। मृतक राधेश्याम इंदौर शहर में प्राइवेट नौकरी करता था। कुछ दिनों पूर्व गांव से उसके यहां गए भाई व भतीजी के साथ वह भी छुट्टी लेकर अपने घर लौट रहा था। 


इस हादसे में मरने वालों के घर कोहराम मचा हुआ है। इस दुर्घटना में जनपद के चार अन्य यात्रियों के भी घायल होने की खबर मिली है। घायलों में उर्मिला  पत्नी रामजन्म, दीपक पुत्र मारकंडेय, बजरंगी प्रताप राना पुत्र रामदेव तथा  जितेंद्र पुत्र हरीनरायन सिंह के बारे में रेल प्रशासन द्वारा जारी की गई  घायलों की सूची में नाम शामिल है। देर शाम तक घायलों का सही पता स्पष्ट  नहीं हो सका है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned