कुमार विश्वास के कार्यक्रम के नाम पर आजमगढ़ में बड़े फ्राड की तैयारी चल रही थी, हुआ खुलासा

कार्यक्रम में कुमार का नाम डाल लाखों का टिकट बेचने के फिराक में थे आयोजक, कुमार विश्वास ने खुद फेसबुक व अपनी वेबसाइट पर पोस्ट डाल किया खुलासा

By: Ashish Shukla

Published: 27 Nov 2019, 09:28 PM IST

आजमगढ़. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव देश के जाने माने कवि कुमार विश्वास के साथ बड़े फ्राड का मामला प्रकाश में आया है। खुद कुमार विश्वास ने अपनी वेबसाइट व फेसबुक पर पोस्ट के जरिये इस फ्राड का खुलासा किया है। इसके बाद से आयोजकों में हड़कंप मचा है। कारण कि जश्ने विश्वास के नाम से कार्यक्रम अर्गनाइज कर रही संस्था उमा उपहार फाउंडेशन व वीआईएस ने कार्यक्रम में महंगे टिकट के जरिये भारी भरकम रकम जुटाने का प्लान बनाया था। जब संस्था का लगा कि उनका पोल खुलने वाला है तो उन्होंने कार्यक्रम की तिथि बदलकर खुद को बचाने का प्रयास किया लेकिन कुमार विश्वास के पोस्ट ने उनका पोल खोल दिया है।

बता दें कि उमा उपहार फाउंडेशन आजमगढ़ व वीआईएस संस्था के संयुक्त तत्वावधान में 28 नवंबर को शहर के सर्वोदय पब्लिक स्कूल हरबंशपुर में जश्ने विश्वास नाम से कार्यक्रम का अयोजन होना था। आयोजकों द्वारा इसमें आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व कवि कुमार विश्वास सहित कई स्थानीय शायरों के शामिल होने की बात कही गयी थी। कार्यक्रम के लिए बाकायदा 500 रूपया, 1000 रूपया तथा वीआइपी टिकट 2000 रूपये में बिक्री भी शुरू कर दी गयी। तमाम लोगों ने टिकट भी खरीद लिया। इसी बीच आयोजकों को कहीं से पता चल गया कि उनका फ्राड खुल गया है और उनके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है। इसके बाद उमा उपहार फाउंडेशन के मेनेजिंग डायरेक्टर प्रवीन कुमार शुक्ला ने मंगलवार को आनन फानन में प्रेस कांफ्रेंस बुलाई और यह कह कर मामले को टाल दिया कि किन्हीं कारणों से कार्यक्रम का समय परिवर्तित कर दिया गया है। अब यह कार्यक्रम 19 दिसंबर को होगा लेकिन संस्था के लोगों ने यह नहीं बताया कि कुमार विश्वास अपने साथ हुए फ्राड से नाराज हैं।

इसी बीच बुधवार को दोपहर बाद खुद कुमार विश्वास ने अपनी वेबसाइट व फेसबुक पर पोस्ट के जरिये इस फ्राड का खुलासा कर दिया और कहा कि संस्तुति पत्र में जो हस्ताक्षर है वह उनका आटोग्राफ ह ैना कि आफीसियल हस्ताक्षर। उनके नाम पर एक संस्था के जरिये फ्राड किया गया है। आयोजकों को जब लगा कि अब यह ममाला तूल पकड़ रहा है तो आयोजक सारे फ्राड का आरोप केडी इवेंट नाम की संस्था पर लगाते हुए एसपी को प्रार्थना पत्र दे दिया।

मजेदार बात है कि उमा उपहार फाउंडेशन के मेनेजिंग डायरेक्टर प्रवीन कुमार शुक्ला एक तरफ दावा कर रहे हैं कि उनके साफ केडी इवेंट नाम की संस्था ने फ्राड किया है और दूसरी तरफ यह भी बता रहे हैं कि उन्हें इस बारे में तीन दिन पहले पता चल गया था। अब सवाल है कि यदि उन्हें तीन दिन पहले मामला पता था तो उन्होंने पुलिस से शिकायत करने के बाजाय मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कार्यक्रम की तिथि 28 नवंबर की जगह 19 दिसंबर बता कर लोगों को गुमराह क्यो किया।

इससे साफ है कि कहीं न कहीं आयोजक भी इस पूरे खेल में शामिल है। यहीं नहीं इस पूरे खेल में जिले के कई सामाजिक संगठनों की संलिप्तता भी मानी जा रही है। कारण कि आयोजकों के साथ लगातार संगठनों के लोग नजर आये है। इसके पूर्व हरियाणा की डांसर सपना चैधरी के नाम पर भी आजमगढ़ में इस तरह के खेल की कोशिश कुछ लोग कर चुके हैं। यह अलग बात है कि बाद में उस कार्यक्रम को रद्द कर उक्त लोगों ने खुद को बचा लिया था।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned