भाजपा को झटका, आजमगढ़ जिले के पूर्व सांसद ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन करते ही कही बड़ी बात

अखिलेश यादव आजमगढ़ से समाजवादी पार्टी के टिकट पर लड़ रहे हैं लोकसभा चुनाव।

आजमगढ़. भारतीय जनता पार्टी को यूपी में बड़ा झटका लगा है। पूर्व सांसद व भाजपा नेता दरोगा प्रसाद सरोज ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर लिया है। सपा में शामिल होने के बाद पहली बार आजमगढ़ पहुंचे पूर्व सांसद दरोगा प्रसाद सरोज का समाजवादी पार्टी कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। दरोगा सरोज मंगलवार को लखनऊ में राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा में शामिल हुए थे।

 

Daroga Prasad saroj
सपा ज्वाइन करने के बाद आजमगढ़ पहुंचे पूर्व सांसद रोगा प्रसाद सरोज IMAGE CREDIT:

 

दरोगा प्रसाद सरोज ने कहा कि मैं अब अपने घर में आ गया हूं। कुछ दिनों के लिए दूसरी पार्टी में जाकर घुटन महसूस कर रहा था। आज आजमगढ़ का सौभाग्य है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने खुद यहां से चुनाव लड़ने की स्वीकृति दिया है। आजमगढ़ की जनता उनके पांच साल के विकास कार्यों से प्रभावित होकर एक तरफा वोट देने का फैसला कर रही है। भाजपा गरीब, किसान, मजदूर, पिछड़ा व दलित विरोधी है।

 

भाजपा में केवल पूंजीपतियों के कई हजार करोड़ रूपये के कर्ज माफ कर दिये गए हों, लेकिन किसानों के कर्जे नहीं माफ किये गए। भाजपा ने जो वादा किया था वह एक भी पूरा नहीं हुआ। जनता भाजपा के जुमले व झूठ बोलकर बर्गलाने के नाटक को समझ चुकी है। अब झंसे में नहीं आने वाली। जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि दरोगा प्रसाद सरोज के आने से समाजवादी पार्टी मजबूत होगी। अखिलेश यादव को इस जिले की जनता रिकार्ड मत से जिताने के लिए प्रतिबद्ध है।

 

इस दौरान राजकुमार प्रधान, राजेश सरोज, अनिल सरोज, जोरार खान, जुठन यादव, रामसेवक यादव, राजेश यादव ’खन्ना’ बेचू राय, अरून गुप्ता, मनिलाल सरोज, धर्मेन्द्र सरोज, अमरनाथ सरोज, जगदीश सरोज, रामप्यारे सरोज, राजकुमार सरोज प्रधान, बाबूराम सरोज, साहबराज सरोज, यदुनाथ यादव, गुड्डू यादव महाप्रधान, सिधारी यादव, अवधेश यादव पूर्व प्रमुख, रामानुज सिंह, फहीम अहमद, सद्दाम खान, अशोक चैहान, हरेन्द्र सोनकर, केशव सोनकर, शिवसागर बर्नवाल, कन्हैया यादव, फकरे आलम आदि उपस्थित थे।

By Ran Vijay Singh

दरोगा प्रसाद सरोज ने कहा कि मैं अब अपने घर में आ गया हूं। कुछ दिनों के लिए दूसरी पार्टी में जाकर घुटन महसूस कर रहा था। आज आजमगढ़ का सौभाग्य है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने खुद यहां से चुनाव लड़ने की स्वीकृति दिया है। आजमगढ़ की जनता उनके पांच साल के विकास कार्यों से प्रभावित होकर एक तरफा वोट देने का फैसला कर रही है। भाजपा गरीब, किसान, मजदूर, पिछड़ा व दलित विरोधी है। भाजपा में केवल पूंजीपतियों के कई हजार करोड़ रूपये के कर्ज माफ कर दिये गए हों, लेकिन किसानों के कर्जे नहीं माफ किये गए। भाजपा ने जो वादा किया था वह एक भी पूरा नहीं हुआ। जनता भाजपा के जुमले व झूठ बोलकर बर्गलाने के नाटक को समझ चुकी है। अब झंसे में नहीं आने वाली। जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि दरोगा प्रसाद सरोज के आने से समाजवादी पार्टी मजबूत होगी। अखिलेश यादव को इस जिले की जनता रिकार्ड मत से जिताने के लिए प्रतिबद्ध है।

इस दौरान राजकुमार प्रधान, राजेश सरोज, अनिल सरोज, जोरार खान, जुठन यादव, रामसेवक यादव, राजेश यादव ’खन्ना’ बेचू राय, अरून गुप्ता, मनिलाल सरोज, धर्मेन्द्र सरोज, अमरनाथ सरोज, जगदीश सरोज, रामप्यारे सरोज, राजकुमार सरोज प्रधान, बाबूराम सरोज, साहबराज सरोज, यदुनाथ यादव, गुड्डू यादव महाप्रधान, सिधारी यादव, अवधेश यादव पूर्व प्रमुख, रामानुज सिंह, फहीम अहमद, सद्दाम खान, अशोक चैहान, हरेन्द्र सोनकर, केशव सोनकर, शिवसागर बर्नवाल, कन्हैया यादव, फकरे आलम आदि उपस्थित थे।

By Ran Vijay Singh

BJP bjp leader
Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned