ब्लाक प्रमुख चुनाव जीतने के लिए बीडीसी सदस्यों को दे रहे थे धमकी व प्रलोभन, पुलिस ने 10 को किया गिरफ्तार

ब्लाक प्रमुख चुनाव जीतने के लिए क्षेत्र पंचायत सदस्यों को डराने धमकाने, उन्हें प्रलोभन देने का खेल शुरू हो गया है। वाहन का नंबर प्लेट बदल पुलिस को चकमा दे बीडीसी सदस्यों को अपने पाले में करने की कोशिश कर रहे 10 लोगों को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार किया।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. ब्लाक की सत्ता हासिल करने के लिए साम, दाम, दंड, भेद का खेल शुरू हो चुका है। बीडीसी सदस्यों को अपने पाले में करने के लिए लालच से लेकर धमकी तक दी जा रही है। इसका खुलासा गुरुवार को तब हुआ जब तरवां थाने की पुलिस ने तीन स्कार्पियों पर सवार दस लोगों को गिरफ्तार किया। पुलिस को चकमा देने के लिए उक्त लोगों ने वाहन का नंबर प्लेट तक फर्जी लगाया था। पुुलिस ने आरोपियों को जेल भेज दिया है। इस दौरान एक युवक भागने में सफल रहा। चुंकि गिरफ्तारी शातिर अपराधी प्रदीप सिंह कबूतरा के घर के सामने से हुई है इसलिए पुलिस मामले की गहराई से छानबीन करने में जुटी है।

थानाध्यक्ष तरवां स्वतंत्र कुमार सिंह फोर्स के साथ गुरुवार को क्षेत्र के महगूगंज क्षेत्र में मौजूद थे। उसी दौरान मुखबिर ने सूचना दी कि कुछ लोग काले रंग की तीन स्कार्पियो में सवार होकर ब्लाक प्रमुख चुनाव में अपने प्रत्याशी को वोट डालने के लिए बीडीसी को डराने धमकाने व दबाव बनाने का काम कर रहे है। इस दौरान वे बीडीसी सदस्यों को प्रलोभन भी दे रहे है। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और मुखबिर को साथ लेकर उक्त लोगों की तलाश में निकल पड़ी।

पुलिस को कबूतरा तिराहा के निकट तीन काले रंग की स्कार्पियो दिख गई। तीन पुलिस ने पीछा किया तो तीनों वाहन गांव की तरफ घूम गए। पुलिस ने घेरेबंदी कर उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन उन्होंने वाहन की गति बढ़ा दी। इसके बाद भी पुलिस ने प्रदीप सिंह कबूतरा के घर पास घेरेबंदी कर तीनों वाहनों को रोक लिया। इस दौरान मौका देख मनोज सिंह निवासी कबूतरा थाना तरवां भागने में सफल रहा। जबकि तीनों वाहनों में बैठे 10 लोगों को पकड़ लिया।

पूछताछ एवं गाड़ी नंबर चेक करने पर पता चला कि नंबर प्लेट फर्जी लगाए गए हैं। पूछताछ में सभी ने स्वीकार किया ब्लाक प्रमुख का चुनाव किसी भी हाल में जीतने के प्रयास में लगे हैं। पुलिस ने स्कार्पियो सवार राणा प्रताप सिंह निवासी तिरसांव थाना मेंहनगर, हृदय नरायण मिश्र निवासी चकदीना खा थाना सिधारी, संतोष कुमार सिंह निवासी सिरसा थाना चिरैयाकोट जिला मऊ, साहब पांडेय निवासी मैनुद्दीनपुर (बारी) थाना जहानागंज, आशीष सिंह निवासी आशापार थाना जैतपुर जिला आंबेडकर नगर, अभिनव सिंह निवासी सुरजूपुर थाना जैतपुर जिला अंबेडकर नगर, रोहित कुमार निवासी जमुवां थाना तरवां अजय सिंह निवासी जमुवां थाना तरवां, संदीप सिंह निवासी नदवां थाना तरवां व कैलाश सिंह निवासी नदवा थाना तरवां को हिरासत में ले लिया।

उक्त लोगों ने पूछताछ में बताया कि वे प्रदीप सिंह कबूतरा से जुड़े हैं। प्रदीप की पत्नी को ब्लाक प्रमुख चुनाव जिताने की कोशिश में लगे हैं। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि गिरफ्तार कैलाश सिंह के खिलाफ पांच, अजय सिंह उर्फ गुड्डू के खिलाफ गैंगस्टर समेत 13 केस दर्ज हैं। गिरफ्तारी शूटर प्रदीप सिंह कबूतरा के घर के सामने से हुई है। उसकी पत्नी अस्मिता सिंह भी भिटकासो से निर्विरोध बीडीसी निर्वाचित हुई है। वह पल्हनी से ब्लाक प्रमुख के चुनाव की तैयारी में है। उसी को जिताने की कवायद में ये लोग निकले थे, लेकिन पकड़े गए। सभी को जेल भेज दिया गया है।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned