किसानों पर हमले के खिलाफ काली पट्टी बांध छात्रसेना का प्रदर्शन

किसानों पर हमले के खिलाफ काली पट्टी बांध छात्रसेना का प्रदर्शन
Protest

अम्बेडकर पार्क में मुंह पर काली पट्टी बांधकर मौन रख जताया विरोध

आजमगढ़. मध्य प्रदेश के आंदोलनरत किसानों पर की गई गोलीबारी की घटना से क्षुब्ध छात्र सेना के कार्यकर्ताओं द्वारा गुरूवार को नगर के अम्बेडकर पार्क में मुंह पर काली पट्टी बांधकर मौन रख विरोध जताया गया। इस दौरान सरकार से किसानों का उत्‍पीड़न बंद करने की मांग की गई।
 
छात्रसेना प्रमुख राजनरायन यादव ने कहा कि अपनी मांगों को लेकर आंदोलनरत किसानों पर हमला लोकतंत्र के लिए शुभ संकेत नहीं है। केंद्र व प्रदेश सरकारें किसानों की मांगों को नजरअंदाज कर रही हैं। यदि किसान आवाज उठाते है तो उनकी बातों को दबाया जाता है उनकी हत्या करा दी जा रही है। क्या यह आजाद भारत है। छात्रसेना ने मांग किया कि केंद्र व प्रदेश सरकारें जल्द से जल्द किसानों की मांगों को पूरा करे और मृत किसानों के परिजनों को उचित मुआवजा देने के साथ ही पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच करायी जाये।

यह भी पढ़ें: 

 


उन्‍होंने कहा कि किसानों की सुध लेने के लिए सरकारों के पास समय नहीं है जो निंदनीय है। विडम्बना है कि कृषि प्रधान देश होने के बावजूद  किसानों की आवाजें दबायी जा रही है, किसान यही चाहता है कि उसके उपज का सही मूल्य मिलें। इसी मांग को लेकर किसान लम्बे अर्से से आंदोलनरत है लेकिन अब तक उनकी आवाज को सभी सरकारों ने अनसुना कर दिया।
 
उन्होंने कहा कि देश के छोटे-बड़े मुद्दे पर मन की बात करने वाले प्रधानमंत्री क्या इस बार किसानों के हक-हकूक पर बात करंगे। प्रशांत श्रीवास्तव ने कहा कि जो किसान देशवासियों के लिए अनाज पैदा करता है जब वह अपने पेट के हक के लिए आवाज उठाता है तो उस पर गोली चलवाना कष्टकारी है, सरकार पूंजीपतियों को अपनी झोली खोलकर मदद कर रही है लेकिन किसानों की अनदेखी करती है। किसानों के हक के लिए छात्र सेना सदैव आवाज उठाती रहेगी। इस मौके पर धनंजय, सच्चिदानंद, इन्दल, अजय आर्या, जितेन्द्र गुप्ता, शिवम तिवारी, अमन, संजय, आशीष, अश्वनी राजभर,  आदि मौजूद रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned