scriptCM Yogi Big Plan for Lok Sabha byelection Azamgarh told SP anti Dalit | कितनी काम आएगी सीएम योगी की रणनीति, यादवों को साधने के साथ मुस्लिम को कितना कर पाएंगे सपा से दूर | Patrika News

कितनी काम आएगी सीएम योगी की रणनीति, यादवों को साधने के साथ मुस्लिम को कितना कर पाएंगे सपा से दूर

लोकसभा उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी निरहुआ के समर्थन में जनसभा संबोधित करने पहुंचे सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला जरूर बोला लेकिन उनके तेवर पहले की तरह तल्ख नहीं दिखा। उन्होंने जहां रामदर्शन के बहाने सपा की चुटकी ली तो गुड्डू जमाली के बहाने अखिलेश पर निशाना साधा तो यह मैसेज देने का प्रयास किया सपा मुसलमानों की हितैषी नहीं है। यहीं नहीं मुन्नर व सुन्नर यादव के बहाने उन्होंने यादवों को बीजेपी के पाले में करने की कोशिश भी की।

आजमगढ़

Updated: June 19, 2022 04:29:29 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. लोकसभा उपचुनाव का प्रचार अंतिम चरण में चल रहा है। सपा यादव-मुस्लिम और राजभर मतों के भरोसे सीट पर दबदबा कायम करने की कोशिश में जुटी है तो बसपा मुस्लिम और दलित के भरोसे सीट छीनने की कोशिश कर रही है। वहीं बीजेपी सवर्ण के साथ ही अदर बैकवर्ड मतदाताओं को साधने की कोशिश में जुटी है। इन सब के बीच बीजेपी की पूरी कोशिश है कि किसी भी तरह मुस्लिम मतों में बिखराव हो और राजभर को पाले में के साथ ही कुछ यादव भी अपने पक्ष में मोड़ सके। यहीं वजह है कि पार्टी ने न केवल आनन फानन रामदर्शन को पार्टी में लिया बल्कि सीएम ने मंच से उनकी तारीफ भी की। वहीं सुशील आनंद के बहाने सपा को दलित विरोधी साबित करने की कोशिश की। साथ ही जमाली के बहाने मुस्लिमों को एहसास कराने की कोशिश किया कि सपा कभी उनका भला नहीं कर सकती।

सीएम योगी आदित्यनाथ
सीएम योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ की दोनों जनसभा की मुख्य बातों पर गौर करें तो सीएम योगी के मंच पर रामदर्शन यादव को विशेष प्राथमिकता दी गयी। सीएम ने चार बार उनका नाम लिया। पहले उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद थी कि सपा रामदर्शन जैसे पुराने कार्यकर्ता को टिकट देकर सम्मानित करेगी। साथ ही मजाकिया अंदाज में कहा कि रामदर्शन जी आये है हमें उम्मीद है कि वे भी फिल्मों में काम करना चाहते हैं। चुंकि रामदर्शन का मुबारकपुर और सदर विधानसभा में अच्छा जनाधार है। इसलिए सीएम की पूरी कोशिश रही कि वे रामदर्शन के जरिये यादव मतदाताओं को साध सकें। ताकि पार्टी प्रत्याशी की राह आसान हो सके।

सीएम ने दलित नेता व पूर्व सांसद बलिहारी बाबू के पुत्र सुशील आनंद के बहाने यह बताने का प्रयास किया कि सपा दलित विरोधी है। उसके लिए सिर्फ परिवार मायने रखता है न कि स्थानीय नेता और कार्यकर्ता। बता दें कि सपा ने उपचुनाव में पहले पूर्व सांसद बलिहारी बाबू के पुत्र सुशील आनंद को प्रत्याशी बनाया था लेकिन अगले दिन ही उनका टिकट काट दिया गया और उनके स्थान पर अपने चचेरे भाई पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव प्रत्याशी बना दिया। इसे लेकर सीएम ने तंज कसा कि अखिलेश ने एक दलित युवा को टिकट दिया और फिर टिकट वापस लेकर सैफई खानदान को दे दिया। इसके पीछे सीएम की मंसा यह बताना था कि सपा दलित विरोधी है।

सीएम ने बसपा प्रत्याशी गुड्डू जमाली के बहाने मुस्लिम मतदाताओं को भी मैसेज देने का प्रयास किया कि सपा किसी मुस्लिम को आगे नहीं बढ़ा सकती है। सीएम ने कहा कि बसपा के प्रत्याशी को भी अखिलेश ने बुलाया था। विधानसभा चुनाव में टिकट देने का वादा किया था लेकिन टिकट न देकर उन्हें बेरोजगार कर दिया। उन्हें फिर वहीं जाना पड़ा। सपा की प्रवृत्ति ही धोखा देने की है। वहीं सीएम ने सुन्नर यादव व मुन्नर यादव को भी याद किया। उन्होंने कहा कि गौरक्षक सुन्नर यादव की सपा सरकार में हत्या हुई लेकिन सरकार ने कोई एक्शन नहीं लिया। वर्ष 2008 में बसपा सरकार में मुन्नर यादव पर हमला हुआ। दोनों भाई इसी मुबारकपुर के रहने वाले थे।

यही नहीं महाराजा सुहेलदेव के बहाने सीएम योगी ने राजभर समाज को भी साधने की कोशिश की। ताकि ओमप्रकाश राजभर के प्रभाव को चुनाव में कम किया जा सके और राजभर मतदाताओं को फिर अपने पाले में किया जा सके। सब मिलाकर सीएम ने जहां अपने वोट बैंक को साधने की कोशिश की वहीं यह भी प्रयास किया कि विपक्ष के वोट बैंक को कैसे बिखेरा जाय। 23 जून को जिले में मतदान होना है। अब देखना यह है कि सीएम का दाव कितना सफल होता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis में दाऊद की भी एंट्री, आज 10.30 पर सुप्रीम सुनवाई में Harish Salve का Abhishek Manu Singhvi से सामना, जानें 5 UpdatesMaharashtra Political Crisis: दाऊद से संबंध रखने वाले को बालासाहेब की शिवसेना समर्थन कैसे कर सकती है? एकनाथ शिंदे ने ट्वीट कर बोला हमलाअग्निपथ योजना: कांग्रेस आज सभी विधानसभा क्षेत्रों में करेगी ‘सत्याग्रह’राष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा आज नामांकन दाखिल करेंगेभारतीय टीम ने आयरलैंड को पहले टी-20 में 7 विकेट से रौंदा, हार्दिक पांड्या और दीपक हूडा का दमदार प्रदर्शनMumbai News Live Updates: महाराष्ट्र में अयोग्य ठहराने के नोटिस पर शिंदे गुट की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाईराशिफल 27 जून 2022: आज भाग्य साथ देने से कुंभ राशि वालों को कोई बड़ी सफलता मिल सकती है, जानें अपनी राशि का हाल'होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा' की मानसिकता से निकलकर 'करना है, करना ही है और समय पर करना है' का संकल्प रखता है भारतः PM मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.