scriptCompetition among 133 candidates in ten assembly seats of Azamgarh | UP assembly election 2022: यहां 10 सीटों के लिए 133 प्रत्याशियों के बीच होगा मुकाबला, गणित सेट करने में जुटे नेता | Patrika News

UP assembly election 2022: यहां 10 सीटों के लिए 133 प्रत्याशियों के बीच होगा मुकाबला, गणित सेट करने में जुटे नेता

UP assembly election 2022 नामांकन पत्रों की जांच के बाद स्थिति लगभग साफ हो गयी है। जिले की 10 सीटों के लिए 133 प्रत्याशी मैदान में हैं। वैसे तो यहां सीधा मुकाबला सपा, बसपा और बीजेपी के बीच दिख रहा है लेकिन कांग्रेस भी अपनी खोई हुई जमीन तलाशने में जुटी हुई है। वहीं एक सीट पर एआईएमआईएम ने मुकाबला काफी दिलचस्प बना दिया है। पिछले चुनाव में अच्छे प्रदर्शन के बाद बीजेपी भी अपने लिए कई सीटों पर संभावनाएं तलाश रही है।

आजमगढ़

Published: February 20, 2022 10:20:32 am

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. UP assembly election 2022 यूपी विधानसभा चुनाव के सातवें चरण की स्थिति साफ हो गयी है। जिले में सपा, बसपा, भाजपा, कांग्रेस, निर्दल समेत 133 प्रत्याशी मैदान में हैं। लंबे समय से जिले की दस सीटों पर सपा और बसपा का दबदबा रहा है। चुंकि पिछले चुनाव में तीन सीटों पर दूसरे स्थान पर थी और एक सीट जीती थी इसलिए इस बार पार्टी चार से पांच सीटों पर अपने लिए संभावना तलाश रही है। हाशिए पर पहुंच चुकी कांग्रेस भी संभावनाएं तलाशने के क्रम में एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुई है। राजनीतिक दल जातीय समीकरण साधने के साथ जोड़-तोड़ के जरिए मंजिल को आसान बनाने की जुगत में हैं लेकिन यहां एआईएमआईएम और उलेमा कौंसिल ने प्रत्याशी उतार चुनाव को और दिलचस्प बना दिया है।

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

बता दें कि आजमगढ़ जिला हमेंशा ही सपा और बसपा के लिए मुफीद साबित हुआ है लेकिन यहां बीजेपी इस मामले में काफी भाग्यशाली रही है कि जब भी उसका यहां खाता खुला पार्टी ने यूूपी की सत्ता हासिल की है। वर्ष 1996 से वर्ष 2012 तक यहां सपा और बसपा के बीच सीधा मुकाबला दिखा है। दूसरी पार्टियां यहां खाता नहीं खेल पाई थी। वर्ष 2012 में सपा ने यहां नौ सीट जीतने की बड़ी उपलब्धि हासिल की थी। वहीं वर्ष 2007 में बसपा को छह सीट मिली थी।

वर्ष 2017 के चुनाव में सपा को पांच, बसपा को चार और बीजेपी को एक सीट मिली थी। कांग्रेस किसी भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ी थी। वर्ष 1996 के बाद बीजेपी को जीत के लिए 2017 तक इंतजार करना पड़ा था। बीजेपी के लिए अच्छा यह था कि पार्टी तीन अन्य सीटों पर दूसरे स्थान पर पहुंची थी जिसमें लालगंज और अतरौलिया वह मामूली अंतर से हारी थी। 2022 के चुनाव में बीजेपी और सपा ने अपने पत्ते काफी पहले खोल दिये थे लेकिन बसपा ने अंतिम समय में उम्मीदवारों की घोषणा की।

लालगंज में भाजपा की नीलम सोनकर, सगड़ी में वंदना सिंह, मेंहनगर में मंजू सरोज की सीधी लड़ाई नजर आ रही, तो सपा आजमगढ़ सदर में दुर्गा प्रसाद यादव, अतरौलिया में डा. संग्राम यादव, निजामाबाद में आलमबदी, गोपालपुर में नफीस अहमद, फूलपुर-पवई में रमाकांत यादव, मुबारकपुर में अखिलेश यादव के जरिए दबदबा बनाती दिख रही है। बसपा दीदारगंज में भूपेंद्र सिंह मुन्ना के जरिए बढ़त बना सकती है, तो चार अन्य सीटों पर भी उसके उम्मीदवार पूरे दमखम से लड़ रहे हैं।

चूंकि जोड़-तोड़, जातीय समीकरण का खेल चरम पर है, ऐसे में दस मार्च तक ऊंट किसी ओर करवट लेगा कहना मुश्किल है। अतरौलिया में भाजपा गठबंधन से निषाद पार्टी के प्रत्याशी प्रशांत कुमार सिंह भी कहीं वोटों के समीकरण में कमजोर नहीं दिख रहे हैं। मतदाताओं के आंकड़े पर गौर करें तो जनपद में सवर्ण 26, अनुसूचित 25, पिछड़ा 32 एवं मुस्लिम 19 फीसद मतदाताओं में जीतता वही है, जिसे समीकरण साधने में महारथ हासिल हो। पिछड़ा-मुस्लिम, अनुसूचित-मुस्लिम, सवर्ण-अनुसूचित मतदाताओं का संगम उम्मीद बन जाती है। सपा किला बचाने को चार यादव, एक पटेल, एक राजभर, दो मुस्लिम, दो अनुसूचित तो भाजपा ने चार सवर्ण, चार पिछड़ा, दो अनुसूचित उम्मीदवारों के जरिए एक-दूसरे की घेराबंदी की है, जबकि बसपा दो मुस्लिम, तीन सवर्ण, तीन पिछड़ा व दो अनुसूचित उम्मीदवारों के जरिए मैदान मारने का संपना संजोए हुई है। पूरे जंग में आठ महिला प्रत्याशी भी ताल ठोंक रहीं हैं, जिसमें भाजपा ने तीन, कांग्रेस ने चार, सपा ने एक उम्मीदवार उतारा है।

मतदाताओं की स्थिति
कुल मतदाता 3632540
पुरुष मतदाता 1905788
महिला मतदाता 1726662
अन्य 90

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Drone Festival: दिल्ली के प्रगति मैदान में भारत के सबसे बड़े ड्रोन फेस्टीवल का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदीपाकिस्तान में 30 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, Pak सरकार को घेरते हुए इमरान खान ने की मोदी की तारीफअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातपहली बार हिंदी लेखिका को मिला अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार, एक मॉं की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीमहरौली में गैस पाइपलाइन में लीकेज के बाद जोरदार धमाका लगी आग, एक घायलमानसून ने अब तक नहीं दी दस्तक, हो सकती है देरखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.