आजमगढ़ के दलित व पिछड़े चेहरे पर कांग्रेस ने लगाया दाव, सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

-युवा नेता रामअवध यादव व संतोष कटाई को मनोनीत किया गया प्रदेश सचिव

-दोनों नेता पार्टी में विभिन्न पदो पर कर चुके हैं काम

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले संगठन को मजबूत करने में जुटी कांग्रेस ने समाजवादियों का गढ़ कहे जाने वाले आजमगढ़ के दो युवा नेताओं को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने जिले के राम अवध यादव व संतोष कटाई को प्रदेश सचिव मनोनीत किया है। माना जा रहा है कि दोनों नेताओं को बड़ी जिम्मेदारी मिलने से पार्टी मजबूत होगी। पार्टी नेतृत्व के फैसले समर्थक भी गदगद है।

बता दें कि मेहनगर तहसील क्षेत्र के कटाई गांव निवासी संतोष कटाई पूर्व सांसद बाबूजी छांगुर राम के परिवार से ताल्लुक रखते हैं। रूहेलखंड विश्वविद्यालय से एमबीए की शिक्षा अर्जित करने के बाद 2010 में इन्होंने कांग्रेस पार्टी से राजनीति जीवन की शुरूआत की। पार्टी के प्रति इनके समपर्ण को देखते हुए पार्टी ने इन्हें 2017 में उन्हें डीआरओ सासाराम की जिम्मेदारी सौंपी। फिर 2018 में 2018 में पीसीसी और एआईसीसी की जिम्मेदारी सौंपी। 2019 लोकसभा चुनाव उत्तर प्रदेश और 2020 में दिल्ली विधानसभा चुनाव में एआईसीसी आब्जर्वर बना कर भेजा गया। पिछले दिनों इन्हें उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया। हाल में हुए उपचुनाव में इन्हें जौनपुर की मल्हनी सीट का प्रभारी बनाया गया था। अब पार्टी ने संतोष को कांग्रेस का प्रदेश सचिव बनाया है।

इसी तरह पार्टी ने मुबारकपुर विधानसभा क्षेत्र के रघुनाथपुर गांव निवासी राम अवध यादव को भी प्रदेश सचिव बनाया है। राम अवध छात्र जीवन में ही कांग्रेस से जुड़ गए थे। इन्हेें जुझारु और संघर्षशील नेता माना जाता है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य राम अवध यादव को उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी का प्रदेश सचिव मनोनीत जाने से कार्यकर्ता गदगद है। इसके लिए लोगों ने प्रदेश अध्यक्ष व राष्ट्रीय महासचिव का आभार जताया है। अशोक सिंह, पप्पू सिंह, मोती यादव, रामवृक्ष यादव, सम्पत यादव, मगदीश यादव, इमरान अहमद, अभिषेक, केशव, सोनू पाल, कर्मराज यादव, रामअवध यादव, प्रमोद कुमार, अशोक यादव, अजीत, श्याम सुन्दर, धीरज, हरेंद्र यादव, राम सिंगार पाण्डेय, अमित पांडेय, रामविजय यादव आदि ने रामअवध यादव के मनोनयन को पार्टी का महत्वपूर्ण फैसला करार देते हुए कहा कि इससे संगठन को मजबूती मिलेगी। पार्टी आगामी विधानसभा चुनाव में विकल्प के रूप में सामने आएगी।

BY Ran vijay singh

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned