मिशन-2022: कांग्रेस की घर-घर दस्तक, हर घर में एक सदस्य बनाने का लक्ष्य

-पूरी तरह चुनाव मोड में दिख रही कांग्रेस, पहली बार उत्साहित दिख रहे कार्यकर्ता

-गांवों में घूमकर किया जा रहा कांग्रेस की नीतियों का प्रचार प्रसार, बनाए जा रहे नए सदस्य

By: Ranvijay Singh

Published: 07 Sep 2021, 02:56 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. यूपी विधानसभा चुनाव में अभी समय है लेेकिन कांग्रेस पूरी तरह चुनावी मोड में दिख रही है। तीन दशक से यूपी की सत्ता से दूर पार्टी ने इस बार पूरी ताकत झोंक दी है। चुनाव की घोषणा के पहले पार्टी खुद को बीजेपी के विकल्प में रूप में पेश करने की तैयारी कर रही है। इससे लिए कांग्रेसी घर घर दस्तक दे रहे है। इस दौरान यह कोशिश की जा रही है कि कम से कम हर परिवार से एक सदस्य को कांग्रेस से जोड़ा जाय। इस कार्य में जिला कमेटी से लेकर बूथ कमेटी तक के पदाधिकारी लगे हुए हैं।

यूपी विधानसभा चुनाव सात से आठ माह में होने हैं। पिछले तीन दशक में पूर्वांचल में कांग्रेस अस्तित्व खोने के कगार पर पहुंच चुकी है। खासतौर पर आजमगढ़ मंडल में पार्टी के प्रत्याशी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में जमानत बचाने के लिए तरसते रहे हैं। पिछले चुनाव में सपा-बसपा गठबंधन हुआ तो आजमगढ़ सहित पूर्वांचल के कई जिलों में कांग्रेस को सीट नहीं मिली थी। इससे कार्यकर्ताओं का मनोबल और टूट गया था। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस आजमगढ़ में सिर्फ एक सीट पर लड़ी जहां प्रत्याशी जमानत नहीं बचा पाया।

यही वजह है कि इस बार कांग्रेस पहले से तैयारी में जुटी है। राष्ट्रीय महासिचव प्रियकां गांधी द्वारा यूपी की कमान संभालने और बिलरियागंज का दौरा करने के बाद से कांग्रेसियों का उत्साह बढ़ा है। कांग्रेस ने दलित उत्पीड़न के मामलों को भी बड़ मुद्दा बनाया और राष्ट्रीय व प्रदेश के नेताओं ने इसमें भागीदारी की। इससे कांग्रेसियों में नई ऊर्जा का संचार हुआ। कांग्रेस में एक भरोसा सा जगा है कि वह खुद को मजबूत विपक्ष के रूप में खड़ा कर सकती है। यहीं वजह है कि पार्टी का कोई भी कार्यक्रम सफल बनाने के लिए कार्यकर्ता पूरी ताकत से लगे हैं।

इस समय ग्राम कांग्रेस के गठन का काम चल रहा है जिले की 1857 ग्राम पंचायतों में कांग्रेसी घर घर दस्तक दे रहे है। शहरी क्षेत्र की कमान खुद जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह ने संभाल रखी है जबकि ग्रामीण क्षेत्र में अन्य पदाधिकारियों को लगाया गया है। मार्टीनगंज, फूलपुर, मेंहनगर, गोपालपुर, लालगंज, निजामाबाद, मुबारकपुर, सदर, सगड़ी आदि विधानसभा में इस कार्यक्रम के तहत पदाधिकारी घर-घर जाकर जहां बीजेपी सरकार की नाकामी को गिना रहे हैं वहीं कांग्रेस की नीतियों से अवगत करा रहे हैं। इस दौरान प्रयास किया जा रहा है कि अधिक से अधिक लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया जाय। प्रवीण सिंह का कहना है कि कांग्रेस ही बीजेपी का विकल्प बन सकती है। जब से यूपी में दूसरे दलों की सरकार बननी शुरू हुई यह प्रदेश गर्त में गया है। जनता का हमें पूरा समर्थन मिल रहा है। 2022 में कांग्रेस की सरकार बननी पक्का है।

Show More
Ranvijay Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned