ENCOUNTER LIVE: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया डी-9 गैंग का सरगना सुजीत सिंह बुढवा

डी-9 गैंग के सरगना सुजीत सिंह उर्फ बुढ़वा को पुलिस ने मुबारकपुर थाना क्षेत्र के गजहड़ा में मार गिराया।

By: Akhilesh Tripathi

Published: 18 Aug 2017, 10:31 PM IST

Azamgarh, Uttar Pradesh, India

आजमगढ़.  उत्‍तर प्रदेश में आतंक का पर्याय बने डी-9 गैंग के सरगना 50 हजार रूपये के ईनामिया बदमाश सुजीत सिंह उर्फ बुढ़वा को पुलिस ने मुबारकपुर थाना क्षेत्र के गजहड़ा में मार गिराया। इस दौरान थाना प्रभारी मुबारकपुर व दो आरक्षी घायल हो गये। घायलों को जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।

 

डी-9 गैंग के वर्तमान सरगना सुपारी किलर सुजीत सिंह उर्फ बुढवा जिसके उपर पूर्व में 50 हजार रूपये का इनाम घोषित किया गया। पिछले दिनों पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। वह रामपुर जनपद कारागार में बंद था। 11 अगस्‍त 2017 को रामपुर पुलिस उसे मउ से पेशी कराकर वापस जनपद-रामपुर ले जाया जा रही थी कि असजमगढ़ जिले के अतरौलिया थाना क्षेत्र के बुढनपुर कस्बे से पुलिस को झांसा देकर भाग निकला था। सुजीत सिंह उर्फ बुढवा के उपर विभिन्न जनपदों में तीन दर्जन से अधिक मुकदमें पंजीकृत थें और जेल में रहते हुए भी यह व्यवसायियों से रंगदारी मांगता था। जिसके कारण इसका कई बार प्रशासनिक आधार पर विभिन्न जेलों में स्थानान्तरण भी किया जाता रहा है। इसका मउ, आजमगढ़, जौनपुर, बलिया, गाजीपुर आदि जनपदों के व्यापारियों एवं आम व्यक्तियों में काफी भय व्याप्त था। पुलिस कस्‍टडी से फरार होने के बाद उसकी तलाश में पुलिस के साथ ही एसटीएफ भी लगी हुई थी।

आजमगढ़ में उसकी तलाश के लिए स्वाट व सर्विलांस की कई टीमें गठित की गई थी। शुक्रवार को पुलिस द्वारा वांछित, पुरस्कार घोषित अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। प्रभारी निरीक्षक शहर कोतवाली योगेन्द्र बहादूर सिंह शारदा तिराहे पर चेकिंग कर रहे थे। शाम करीब 4.30 बजे एक मोटरसाईकिल पर सवार दो व्‍यक्ति पहुंचे। पुलिस ने उन्‍हें रूकने का इशारा किया तभी हेलमेट लगाये व्‍यक्ति ने पुलिस पर फायर कर दिया गोली आरक्षी आनन्द कुमार सिंह को जा लगी और मोटरसाईकिल सवार दोनो व्यक्ति पुल से शंकर तिराहा सिधारी होते हुए सठियांव की तरफ भागने लगे।

प्रभारी कोतवाली ने घटना से जनपद नियंत्रण कक्ष को अवगत कराते हुए उसका पीछा किया। घायल आरक्षी को चौकी प्रभारी रोडवेज द्वारा तत्काल अस्पताल ले जाया गया। नियंत्रण कक्ष द्वारा प्राप्त सूचना पर थानाध्यक्ष जहानागंज, प्रभारी निरीक्षक सिधारी, थानाध्यक्ष मुबारकपुर, स्वाट टीम आदि को अर्लट करते हुए जगह-जगह घेराबंदी कर चेकिंग प्रारम्भ कर दी गई। इसी दौरान भागते हुए दोनो अभियुक्तों को प्रभारीनिरीक्षक कोतवाली, प्रभारी थाना मुबारकपुर, थानाध्यक्ष जहानागंज व स्वाट टीम नें घेराबंदी किया तों वे मुबारकपुर के ग्राम-गजहरा स्थित नव निर्मित कांशीराम आवास में घुस गये व वही से लगातार पुलिस पर फायर जारी रखा।

मुठभेड़ में प्रभारी थाना मुबारकपुर अनुप शुक्ला एवं स्वाट टीम के आरक्षी अवधेश कुमार सिंह गोली लगने से घायल हो गये। पुलिस के जवाबी फायर में एक बदमाश दो गोली लगने से घायल होकर गिर गया जबकि दूसरा बदमाश भागने में सफल रहा। घायल अभियुक्त की पहचान सुजीत सिंह उर्फ बुढवा पुत्र कमलेश सिंह, निवासी- अल्देमऊ, थाना- चिरैयाकोट, जनपद- मऊ के रूप में हुयी।

घायल को जिला अस्‍पताल लाया गया। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गयी। पूछताछ में सुजीत ने बताया कि अतरौलिया थाना के बुढनपुर से भागने के बाद अपने साथी लालजीत यादव पुत्र शिवचन्द यादव, निवासी-छत्तरपुर, थाना-सिधारी, आजमगढ़ के साथ तरवॉ में मोटरसाईकिल लूट, जनपद-मउ के सराय लखन्सी में एसबीआई ग्राहक सेवा केन्द्र में लूट, जनपद-जौनपुर के गौराबादशाहपुर में अपाची लूट व मडियाहूं में बैंक लूटने का प्रयास तथा जनपद-आजमगढ़ के रौनापार में मोटरसाईकिल लूट की बात बताया।

घायल पुलिस कर्मी

प्रभारी थाना मुबारकपुर श्री अनुप शुक्ला।

आरक्षी अवधेश कुमार सिंह स्वाट टीम।

आरक्षी आनन्द कुमार सिंह, थाना-कोतवाली।

बरामदगी

एक अद्द पिस्टल 9 एम.एम., जिन्दा कारतूस, खोखा कारतूस

एक अद्द पल्सर मोटरसाईकिल

फरार अभियुक्त

लालजीत यादव पुत्र शिवचन्द यादव, निवासी-छत्तरपुर, थाना-सिधारी, आजमगढ़

मृतक अभियुक्त

सुजीत सिंह उर्फ बुढवा पुत्र कमलेश सिंह, निवासी- अल्देमऊ, थाना- चिरैयाकोट, जनपद- मऊ।

 

BY- RanVijay Singh

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned