आजमगढ़ में दलित राजगीर की पीट-पीटकर हत्या, तीन आरोपी गिरफ्तार

होली की रात पीट-पीटकर की गयी थी दलित राजगीर की हत्या।

आजमगढ़. होली पर्व पर शुक्रवार को हुई दलित राजगीर की हत्या में शामिल तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी की तलाश अभी जारी है। पुलिस ने उम्मीद जताई है कि जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

इसे भी पढ़ें

भाजपुरी स्टार पवन सिंह ने रचायी दूसरी शादी, देखिये विवाह की EXCLUSIVE तस्वीरें

 

बता दें कि सिधारी थाना क्षेत्र के समेंदा ग्रामसभा अंतर्गत बीरुआ और लोहरहीं गांव के लोगों के बीच शुक्रवार को दिन में होली खेलने के दौरान किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। उसी विवाद को लेकर लोहरहीं गांव के यादव बस्ती के लोग खार खाए हुए थे। उसी शाम करीब छह बजे बीरुआ ग्राम निवासी 48 वर्षीय जवाहिर राम पड़ोसी गांव के रहने वाले अपने दोस्त के बुलाने पर उसके घर दावत खाने गया था। इस बात की जानकारी विपक्षियों को हुई और उन्होंने जवाहिर को सबक सिखाने की योजना बना ली और मछली की दावत खाकर मित्र के साथ घर लौट रहे जवाहिर को रास्ते में घात लगाकर छिपे यादव बस्ती के लोगों ने लाठी-डंडा से पीटकर गंभीररूप से घायल कर दिया। अस्पताल ले जाते समय जवाहिर की मौत हो गयी।

 

इसे भी पढ़ें

हाईकोर्ट का सवाल, अल्पसंख्यक छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति की मॉनिटरिंग कैसे की जाती है


इस मामले में मृतक जवाहिर राम के भाई हीरालाल ने जयराम यादव व उनके लड़के विनय यादव, बृजेश यादव व विनोद यादव के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था। घटना के बाद से ही पुलिस मामले की तप्तीश में जुटे थे। मंगलवार की देर शाम पुलिस ने आरोपी लोहरही गांव निवासी विनोद यादव, बृजेश यादव व विनय यादव पुत्रगण जयराम यादव को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आफिस बुधवार को मीडिया से बातचीत में अपर पुलिस अधीक्षक नगर संतोष गंगवार ने बताया कि आरोपियों ने मामूली विवाद में सोची समझी रणनीति के तहत हत्या को अंजाम दिया था।
by Ran Vijay Singh

Show More
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned