डीएम की चेतावनी, 14 अक्टूबर तक नहीं दिया शौचालय का पैसा तो होगी एफआईआर

अधिकारियों की बैठक में गांवों को ओडिएफ बनाने पर चर्चा

By: Ashish Shukla

Published: 13 Oct 2019, 01:40 PM IST

आजमगढ़. जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने शनिवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर एलओबी के शौचालय की धनराशि को लाभार्थियों के खातों में हस्तांतरण के संबंध में चर्चा की गयी। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जिन सचिवों द्वारा 14 अक्टूबर 2019 तक लाभार्थियेां के खाते में शौचालय की धनराशि अन्तरित नहीं की जाती है, उनके विरूद्ध शासकीय योजनाओं में बाधा पहुंचाने व लाभार्थियों से अवैध वसूली का प्रयास किये जाने के आरोपों में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी जायेगी।

सामुदायिक शौचालयों की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निर्देंश दिये कि ग्रामीण बाजार एवं उन मजरों को चिन्हित किया जाये, जहां दलित शोषित, अल्पसंख्यक समुदाय के लोग निवास करते हों और उनके पास स्वयं के शौचालय बनवाने हेतु भूमि उपलब्ध न हो। ऐसे स्थलों का चिन्हांकन आबादी के नजदीक करायें, ताकि इन मजरों/बाजारों को भी पूर्णरूपेण खुले में शौच मुक्त कराया जा सके। जिलाधिकारी द्वारा यह भी चेतावनी दी गई कि जिन प्रधान, सचिव व लाभार्थियों द्वारा शौचालय निर्माण में जानबूझकर विलम्ब किया जायेगा, उनके विरूद्ध प्रशासनिक कार्यवाही की जायेगी ।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned