आजमगढ़ में हर्षो उल्लास के साथ मनाई गई ईद

 आजमगढ़ में हर्षो उल्लास के साथ मनाई गई ईद

रमजान के पाक महिना सम्पन्न होने के बाद मनाया जा रहा ईद का त्योहार

आजमगढ़. रमजान के तीस रोजे के बाद चांद का दीदार कर सोमवार को खुशियों का पर्व ईद-उल-फितर धूमधाम के साथ मनाया गया। मुस्लिम भाईयों ने मस्जिदों व ईदगाहों पर नमाज अदा कर अमन की दुआएं मांगी और एक दूसरे को गले मिलकर ईद की बधाईयां दी। इस दौरान प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े बन्दोबस्त किये थे। 




जिले में 504 मस्जिदों और इदगाहों में ईद की नमाज सुबह सम्पन्न हुई। इस दौरान इदगाहों और मस्जिदों के आस-पास मेले जैसे दृश्य रहा। लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर मुबारकबाद दी। सौहार्द के साथ समारोह कर भाइचारा का संदेश दिया। 





नगर के बदरका ईदगाह, बाग लपेटू, जामा मस्जिद, टेढ़िया मस्जिद, दलालघाट, सिधारी आदि स्थानों पर नमाज अदा की गयी वही ग्रामीण क्षेत्रों फूलपुर, सरायमीर, मुबारकपुर, बिलरियागंज, महराजगंज, अतरौलिया, निजामाबाद आदि स्थानों पर भी ईदगाहों और मस्जिदो रमजानुल मुबारक के बाद ईदुल फितर का फर्ज अदा किया। इमाम द्धारा खुतबा करने के बाद अल्लाह की इबादत में नमाज अदा की गयी। बदरका ईदगाह के पास जिलाधिकारी चन्द्रभूषण सिंह, पुलिस अधीक्षक, अजय कुमार साहनी और विभिन्न राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों ने भी मुस्लिम बन्धुओं के साथ गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी ।



इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि रमजान के पाक महिने के सम्पन्न होने के बाद ईद का त्योहार मनाया जा रहा है। लोग भाई चारे के साथ एक दूसरे को गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दे रहे है। पूरे जिले में शान्तिपूर्वक ईद की नमाज सम्पन्न करा ली गयी है। 





वही पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी ने बताया कि पूरे जिले में सभी ईदगाह और मस्जिदों में ईद की नमाज सकुशल सम्पन्न करा ली गयी है। लोग एक दूसरे को गले लगाकर  भाईचारगी के साथ ईद का त्यौहार मना रहें है।
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned