दहेज हत्या व उत्पीड़न के दो मामलों में छह के खिलाफ मामला दर्ज

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Sep, 12 2018 10:22:39 PM (IST) | Updated: Sep, 12 2018 10:22:40 PM (IST)

Azamgarh, Uttar Pradesh, India

देवगांव थाना, आजमगढ़

1/2

दीदारगंज व देवगांव कोतवाली का मामला।

आजमगढ़. देवगांव कोतवाली व रानी की सराय थाने में मंगलवार को दहेज हत्या व उत्पीड़न के दो मामलों में आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मामले पंजीकृत किए गए।

 

दीदारगंज थाना क्षेत्र के गौरापुर ग्राम निवासी केदारनाथ राजभर का आरोप है कि बीते दस सितंबर को दहेज की मांग को लेकर ससुराल वालों ने उसकी 27 वर्षीय पुत्री सीमा को जलाकर मार डाला। मृतका के पिता की तहरीर पर देवगांव कोतवाली में मंगलवार को स्थानीय गोपालपुर सोठौली ग्राम निवासी पति अरविंद राजभर व सास प्रमिला देवी पत्नी गुलाब राजभर के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

 

इसी क्रम में सिधारी थाना क्षेत्र के पल्हनी गांव स्थित अपने मायके में रहने को मजबूर हुई विवाहिता शिवराधना ने मंगलवार को रानी की सराय थाने में पति समेत चार लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया है। पीड़िता ने पति मनिराम पुत्र धन्नू राम सहित चार लोगों के खिलाफ दहेज की मांग को लेकर प्रताड़ित करने और ससुराल से भगा देने के आरोप लगाया है। ससुराल पक्ष के लोग रानी की सराय क्षेत्र के मुरादाबाद गांव के निवासी बताए गए हैं।

 

निरीक्षण में अनुपस्थित मिले चिकित्सकों का वेतन रोकने का निर्देश

आजमगढ़. मुख्य चिकित्साधिकारी डा रवीन्द्र कुमार ने पिछले दिनों मेंहनगर स्थित गजोर गाँव में फैले डायरिया के मरीजों की स्थिति में उत्तरोत्तर सुधार होने और कोई नया मरीज नहीं मिलने पर संतोष व्यक्त किया। सीएमओ अपने विशेष औचक निरीक्षण अभियान के तहत् आज मेंहनगर स्थित उक्त गाँव के साथ साथ खरिहानी एवं चक्रपानपुर के सरकारी चिकित्सालयों का भी दौरा किया। चक्रपानपुर राजकीय मेडिकल कॉलेज के वार्ड में भी जाकर तहकीकात की।

सीएमओ ने जहाँ गजोर गाँव में डायरिया से प्रभावित लोगों को अब तक विभाग द्वारा किये गये चिकित्सकीय कार्यों को संतोषजनक बताया वहीं उन्होंने अति प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्सक डॉ अर्पित सिंह के अनुपस्थित पाये जाने पर एक दिन का वेतन रोकने के साथ स्पष्टीकरण तलब किया है। चक्रपानपुर स्वास्थ केन्द्र पर डॉ पीयूष श्रीवास्तव को भी अनुपस्थित पाये जाने पर डॉ कुमार ने एक दिन का वेतन रोकने के साथ स्पष्टीकरण मांगा। सीएमओ ने कहा जनपद के सभी चिकित्सालयों के प्रभारियों सहित समस्त स्टाफ को हिदायत दी कि कार्यसंस्कृति में बदलाव लाये अन्यथा प्रशासनिक कार्यवाही होती रहेगी।

By Ran Vijay Singh

Ad Block is Banned