Breaking आजमगढ़ के दलित बस्ती में लगी भयानक आग, 4 लोगों की मौत- एक दर्जन पशु जलकर खाक

रौनापार थाना के क्षेत्र के बरडिहा दलित बस्ती की घटना...

By: ज्योति मिनी

Published: 05 Jan 2018, 12:18 PM IST

आजमगढ़. यूपी के आजमगढ़ में देर रात दलित बस्ती में आग लग गई। जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। सगड़ी तहसील क्षेत्र के रौनापार थाना अंतरगत बरडीहा गांव की दलित बस्ती में बीती रात अज्ञात कारणों से आग लग गई। लगभग 1 बजे मंडई में लगी आग में मां व उसकी दो बेटियों की मौत हो गई।

वहीं महिला का पति भी गम्भीर रूप से झुलस गया। मरने वालों में 45 वर्षीय महिला प्रभावती पत्नी रामसागर, 12 वर्षीय बालिका संगीता पुत्री रामसागर, 16 वर्षीय चंद्रशिला पुत्री रामसागर शामिल हैं। वहीं 50 वर्षीय रामसागर पुत्र स्वर्गीय निर्मल राम बुरी तरह से झुलस गया। राम सागर को सदर में भर्ती कराया गया है। अगलगी की इस घटना में एक गाय, एक बछड़ा एवं 10 बकरियां भी जलकर खाक हो गईं।

सुबह मौके पर उप जिलाधिकारी सगड़ी रविरंजन,एसओ राकेश सिंह एवं पशु चिकित्सा अधिकारी पहुंच गए। तहसील स्तर पर पीड़ित परिजनों की मदद से जरूरी कार्रवाई की जा रही है।

 

यह भी पढ़ें-
जहानागंज थाना क्षेत्र अंतर्गत भुजहीं गांव के पास स्थित पुलिया से टकराकर पानी से भरी नहर में लकड़ी लदी ट्रैक्टर-ट्राली गिर गई। इस हादसे में ट्रैक्टर चालक समेत तीन लोगों की मौत हो गई। वहीं दो अन्य मजदूर घायल हो गए। घायल मजदूरों को ईलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। दुर्घटना बुधवार की देर रात करीब 11 बजे हुई बताई गई है।


जहानागंज थाना क्षेत्र के कनैला (चक्रपानपुर) गांव से बुधवार की रात स्थानीय मन्दे गांव में आरामशीन पर ट्रैक्टर-ट्राली से लकड़ी ले जायी जा रही थी। रात करीब 11 बजे नहर मार्ग से होते हुए लकड़ी लदी ट्रैक्टर-ट्राली भुजहीं पुलिया के पास पहुंची ही थी कि घने कोहरे के कारण पुलिया को चालक नहीं देख सका। परिणामस्वरुप लकड़ी लदी टैªक्टर-ट्राली पुलिया की रेलिंग तोड़ते हुए पानी भरी नहर में गिर पड़ी। इस हादसे में वाहन चालक दिनेश गोंड (46) पुत्र अच्छेलाल निवासी स्थानीय ग्राम मुस्तफाबाद, मजदूर बालचन्द उर्फ नान्हू (55) पुत्र अतवारु पासी व रमेश (30) पुत्र तिलकधारी पासी ग्राम मटियवना की मौत हो गई। जबकि मटियवना निवासी बल्ली (30) पुत्र अतवारु पासी तथा मृतक रमेश का भांजा गौतम (20) पुत्र मिठाई उर्फ श्रवण पासी ग्राम डीहां थाना जहानागंज घायल हो गए। घायलों की चीख पुकार सुनकर आस पास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे।

रात में ही तीनों शव नहर से बाहर निकाले गए। सूचना पाकर मुकामी पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने लोगों की मदद से घायलों को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल भेजा गया। चिकित्सक ने दोनों की हालत गंभीर देख उन्हें जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। मृतक चालक दिनेश के दो पुत्र व एक पुत्री, बालचन्द उर्फ नान्हू के दो पुत्र व दो पुत्री तथा तीसरे मृतक रमेश पासी के दो पुत्र तथा एक पुत्री बताए गए हैं। इस घटना से तीनों मृतकों के घर कोहराम मचा हुआ है। क्षेत्र में भी शोक की लहर व्याप्त है।

input- रणविजय सिंह

Show More
ज्योति मिनी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned