आजमगढ़: पारिवारिक कलह के चलते युवती ने की आत्महत्या

आजमगढ़: पारिवारिक कलह के चलते युवती ने की आत्महत्या

समय के साथ रीता ने दो वर्ष पूर्व बेटी अंशिका को जन्म दिया। इसी के बाद ससुराल वालों द्वारा रीता पर अत्याचार बढ़ गया।

आजमगढ़. आजमगढ़ में पारिवारिक कलह के चलते क्षुब्ध विवाहिता ने दो वर्षीय बेटी का मोह त्याग शनिवार की दोपहर में स्वयं को आग के हवाले कर दिया। परिजन उसे जौनपुर स्थित अस्पताल में भर्ती कराए जहां देर शाम उसकी मौत हो गई। मृतका के दादा ने पौत्री को दहेज के चलते आत्महत्या करने के लिए उत्प्रेरित करने के आरोप में पति, सास व ससुर के खिलाफ बरदह थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पति व ससुर को हिरासत में ले लिया है।

दीदारगंज थाना क्षेत्र के पटरवल ग्राम निवासी सोमारू यादव ने अपनी पौत्री रीता (22) की शादी लगभग तीन वर्ष पूर्व बरदह थाना क्षेत्र के दुबरा ग्राम निवासी संजीव के साथ की थी। वधू पक्ष ने यथा सामथ्र्य वर पक्ष को दहेज आदि भी दिया था। समय के साथ रीता ने दो वर्ष पूर्व बेटी अंशिका को जन्म दिया। इसी के बाद ससुराल वालों द्वारा रीता पर अत्याचार बढ़ गया।

पारिवारिक कलह के चलते शनिवार की दोपहर रीता ने घर के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर स्वयं को आग के हवाले कर दिया। गंभीर रूप से झुलसी विवाहिता को ससुराल वालों ने जौनपुर स्थित अस्पताल में भर्ती कराया जहां देर शाम उसकी मौत हो गई। इस बात की सूचना किसी ने मुकामी पुलिस को देने
के साथ ही मायके वालों को भी दे दी। मौके पर पहुंचे मृतका के दादा ने दहेज के चलते पौत्री को आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाते हुए बरदह थाने में पति, सास व ससुर के खिलाफ नामजद तहरीर दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए आरोपी पति व ससुर को हिरासत में ले लिया।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned