बेवफाई से नाराज प्रेमिका ने पूर्व प्रेमी के साथ मिलकर प्रदीप को उतारा था मौत के घाट

हत्यारोपी की बहन पर बुरी नजर रखता था मृतक, इसलिए युवक ने उसकी प्रेमिका के साथ मिलकर रची हत्या की साजिश

आजमगढ़. पवई थाना क्षेत्र के दलीपपुर गांव में चार दिन पूर्व हुई युवक की हत्या का राज खुल खुल गया है। युवक का गांव की एक लड़की से प्रेम प्रपंच चल रहा था। इसके बाद भी उसकी नजर एक अन्य लड़की पर थी। जब लड़की के भाई को पता चला कि युवक की उसके बहन पर भी बुरी नजर है तो उसने प्रेमिका के साथ मिलकर साजिश रची और गन्ने के खेत में बुलाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद मृतक का मोबाइल खेत में ही गाड़ दिया। पुलिस ने आरोपी प्रेमिका और युवक को को गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि दलीपपुर गांव निवासी प्रदीप कुमार राम (18) पुत्र स्व. घनश्याम राम 20 अक्टूबर की शाम घर से लापता हो गया था। इसके बाद 21 अक्टूबर की सुबह गांव की सिवान में उसकी लाश गन्ने के खेत में पाई गयी थी। मृतक का मोबाइल गायब था। पुलिस प्रथम दृष्टया गला दबाकर हत्या मानकर मामले की जांच में जुटी थी।

मृतक के भाई राजेश ने भी अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। जांच के दौरान जो तथ्य सामने आये उससे पुलिस के भी होश उड़ गए। कारण कि पुलिस ने कल्पना भी नहीं की थी कि दिन भर नाव से लोगों को मंजिल तक पहुंचाने वाले युवक के हत्या की वजह प्रेम प्रपंच हो सकता है।

बहरहाल जब पुलिस मामले की तह तक पहुंची तो गांव के ही प्रेवश कुमार व कुमारी बेबी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि प्रवेश का पहले बेबी से प्रेम प्रपंच चल रहा था। बीच में प्रदीप से बेबी का संबंध हो गया। प्रवेश को उन दोनों के बीच मेल-जोल पसंद नहीं था इसलिए वह प्रदीप को पसंद नहीं करता था।

हाल ही में प्रवेश को पता चला कि प्रदीप का झुकाव उसकी बहन की ओर हो गया है। प्रवेश ने यह बात बेबी को बतायी। बेबी भी प्रदीप की बेवफाई से नाराज हो गयी। फिर क्या था दोनों ने मिलकर प्रदीप के हत्या की साजिश रच डाली।

पूर्व नियोजित प्लान के तहत घटना के दिन बेबी ने प्रदीप को फोन कर गन्ने के खेत में बुलाया। प्रदीप जैसे ही वहां पहुंचा पहले से मौजूद प्रवेश ने प्रदीप के सिर पर ईंट से प्रहार कर घायल कर दिया। वह घायल होकर जब जमीन पर गिरा तो बेबी ने गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद वे प्रदीप के दोनों मोबाइल फोन का सिम निकाल कर तोड़ दिये और मोबाइल को खेत में गाड़ दिया।

पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि हत्या पूरी प्लानिंग के तहत की गयी थी। दोनों आरोपियों का गिरफ्तार करने के साथ ही मृत युवक की दोनों मोबाइल व हत्या में प्रयुक्त ईंट भी बरामद कर लिया गया है। दोनों को जेल भेज दिया गया है।

BY Ran vijay singh

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned