जो बोले सो निहाल के जयकारे के बीच शुरू हुआ सालाना जोड़ मेला

ऐतिहासिक गुरुद्वारा चरण पादुका साहिब के तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय गुरुमत समागम व सालाना जोड़ मेला शुक्रवार को शुरू हो गया।

By: Devesh Singh

Published: 29 Mar 2019, 09:43 PM IST

रिपोर्ट:-रणविजय सिंह
आजमगढ़। ऐतिहासिक गुरुद्वारा चरण पादुका साहिब के तत्वावधान में आयोजित तीन दिवसीय गुरमत समागम व सालाना जोड़ मेला शुक्रवार को शुरू हो गया। इस दौरान गुरुद्वारा दरबार साहिब व गुरु नानक घाट पर अखंड पाठ शुरू हुआ। गुरु नानक घाट को दुल्हन की तरह सजाया गया है। देश के विभिन्न हिस्सों से आई संगतों ने दुखभंजन कुएं के जल से स्नान कर गुरु दरबार में पहुंच कर मत्था टेका।

वहीं संगतों के रुकने के लिए दीवान हाल, नानक घाट पर प्रबंध किया गया है। उनके लिए चाय-पकौड़े से लेकर लंगर तक की व्यवस्था की गई है। लोगों का लंबा सफर फिर भी चेहरे का उत्साह के भाव चेहरे पर थकावट कहीं नहीं दिख रही है। लोग अपने कंधों पर भारी भरकम बैग टांगे परिवार के साथ ’जो बोले सो निहाल सत श्री अकाल’, ’वाहे गुरु दी खालसा, वाहे गुरु दी फतेह’ के जयकारे के साथ गुरुद्वारे की तरफ अपने कदम बढ़ाते जा रहे हैं। संगतों के उद्घोष से पूरा कस्बे भक्तिमय हो गया। कस्बे में ध्वनि विस्तारक के माध्यम से गुरुवाणी का प्रसारण किया जा रहा है। गुरु का ताल आगरा के संत बाबा प्रीतम सिंह अपने सेवक जत्था के साथ यहां पहुंच चुके हैं। उनके लोग स्वयं मेले की व्यवस्था देख रहे हैं। संत बाबा प्रीतम सिंह ने बताया कि नगर में सिख संगत न होने के बाद भी यहां के रहने वाले सभी धर्म के लोगों की गुरुद्वारा साहिब में पूरी आस्था है।
सालाना जोड़ मेले को देखते हुए कार्यक्रम स्थल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। 29 से 30 मार्च तक नगर में दो पहिया व चार पहिया वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया है। केवल संगत के वाहन नगर में प्रवेश करेंगे। उनके भी चार पहिया वाहनों के बाहर ही पार्क कराया जाएगा। उपजिलाधिकारी बागीश शुक्ला, क्षेत्राधिकारी सदर अकमल खान, थानाध्यक्ष भगवान राम मेले की व्यवस्था स्वयं देख रहे हैं। भारी फोर्स के साथ कई थानों की पुलिस लगी हुई है।

Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned