संदिग्ध हालत में सड़क किनारे मिला होमगार्ड का शव

संदिग्ध हालत में सड़क किनारे मिला होमगार्ड का शव
Murder

रेल पटरी के किनारे मिला युवक का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

आजमगढ़. पवई थाना क्षेत्र के नाटी गांव के पास मंगलवार की देरशाम करीब आठ बजे सड़क किनारे संदिग्ध परिस्थितियों में होमगार्ड जवान का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज घटना की छानबीन शुरू कर दी है।

क्षेत्र के सुलेमापुर ग्राम निवासी 57 वर्षीय योगेंद्र प्रसाद मिश्र पुत्र कमलदेव मिश्र स्थानीय थाने पर होमगार्ड जवान के रूप में कार्यरत था। सावन माह के अवसर पर एक माह के लिए उसकी ड्यूटी फूलपुर कोतवाली में लगाई गई थी। मंगलवार की देर शाम करीब सात बजे वह घर से साइकिल द्वारा ड्यूटी के लिए निकला था।


यह भी पढ़ें:

पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में अफसरों की लापरवाही, जा रही गाय की जान


रात करीब आठ बजे साइकिल सवार होमगार्ड जवान का शव नाटी गांव के पास संदिग्ध परिस्थितियों में सड़क किनारे पड़ा मिला। राहगीरों द्वारा इसकी जानकारी मुकामी थाने को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा एंबुलेंस के माध्यम से निर्जीव हालत में पड़े होमगार्ड जवान को इलाज के लिए स्थानीय सीएचसी ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना पाकर मृतक के घर कोहराम मच गया। मृतक के दो पुत्र व एक पुत्री बताए गए हैं। घटना की जांच कर रही पुलिस को मृतक के पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।


रेल पटरी के किनारे मिला युवक का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका
फूलपुर क्षेत्र के फूलपुर देहात इलाके में स्थित देसी शराब दुकान के समीप बुधवार की सुबह रेल पटरी के किनारे 20 वर्षीय युवक का शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मृतक के शरीर पर जख्मों के निशान देखकर परिजनों ने युवक की हत्या की आशंका जताई जबकि पुलिस इसे दुर्घटना मौत मान रही है।

स्थानीय नगर पंचायत के चंद्रशेखर आजाद नगर वार्ड में स्थित केवट बस्ती निवासी मनदीप बिंद (20) पुत्र भारत बिंद मंगलवार की रात करीब नौ बजे भोजन करके घर से निकला और रात में वापस नहीं लौटा। बुधवार की सुबह दैनिक क्रिया के लिए रेल पटरी के किनारे गए लोग युवक का रक्तरंजित शव देख दंग रह गए। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

शव मिलने की जानकारी पाकर मौके पर काफी संख्या में लोग एकत्र हो गए। मृतक की पहचान केवट बस्ती निवासी मनदीप बिंद के रूप में की गई। मौके पर पहुंचे परिजनों ने मृतक के चेहरे तथा पैरों में जख्मों के निशान देख उसके हत्या किए जाने की आशंका जताई। वही मुकामी पुलिस मौत की वजह दुर्घटना मान रही है। इस संबंध में फूलपुर कोतवाल रामायण सिंह का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्थिति स्पष्ट होने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मृतक तीन भाइयों में मंझला और अभी बेरोजगार था।


खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned