होमगार्डों ने पूछा यै कैसे अच्छे दिन, अगस्त से नहीं मिला वेतन, भुखमरी की कगार पर हमारा परिवार

मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपते हुए समस्या से अवगत कराया गया

आजमगढ़. उत्तर प्रदेश होमगार्ड्स अवैतनिक अधिकारी व कर्मचारी एसोसिएशन की बैठक सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित मेहता पार्क में हुई। इसमें लंबे समय से वेतन का भुगतान न होने पर नाराजगी व्यक्त की गयी। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपते हुए समस्या से अवगत कराया गया।

जिलाध्यक्ष लालबहादुर पाठक ने कहा कि होमगार्ड जवानों का बीते अगस्त 2019 से आज तक भुगतान लम्बित है। जिसके कारण होमगार्ड जवानों को जीवन-यापन में बेहद कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। जनपद आजमगढ़ में ड्यूटी पर तैनात 750 की अतिरिक्त जवानों का वेतन पुलिस विभाग द्वारा प्रदान किया जाता है जिसका भुगतान अगस्त 2019 से आज तक लम्बित हैं।

इसके साथ ही प्रयागराज में जनवरी 2019 के महाकुम्भ में आजमगढ़ से 600 की संख्या में होमगार्ड जवानों की तैनाती की गयी थी उन कर्मियों का भी भुगतान लम्बित होना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके अलावा 2019 में लोकसभा निर्वाचन में 1700 की संख्या में होमगार्ड जवान तैनात किये गये थे जिसमे से 200 जवानों का भुगतान आज भी लम्बित है। होमगार्ड जवानों के समक्ष उपजे समस्याओं को देखते हुए सूबे के मुखिया से गुहार लगाया गया है।
प्रांतीय उपाध्यक्ष मर्याद यादव ने कहा कि लम्बित वेतन को लेकर होमगार्ड जवान बेहद जूझ रहे है। विषम परिस्थितियों के कारण जवानों और उनके परिवार के समक्ष भूखमरी की समस्या उत्पन्न हो गयी है। इतना ही नहीं, ऐसी परिस्थितियों के कारण जवानों के बच्चों की फीस, शादी विवाह आदि जरूरतें प्रभावित हो रही है। जवानों के लम्बित भुगतान को लेकर अधिकारी उदासीन बने हुए है। अगर शीध्र ही कार्यवाही नहीं की गयी तो आगामी रणनीति बनाकर एसोसिएशन मुखर होने को बाध्य होगा। जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned