जेठ ने चार महीने तक किया विवाहिता का शारीरिक शोषण, अब पुलिस अधीक्षक से कही 'साहब बचा लो'

बेबस पिता ने जब ससुराल वालों से उलाहना दिया तो उसे लाठी डंडे से प्रहार कर घायल कर दिया

आजमगढ़. कलयुगी भसुर के शारीरिक शोषण का शिकार विवाहिता ने जब जुबान खोलने की कोशिश की तो उसे जान से मारने की धमकी दी गई। हिम्मत जुटाकर पीड़िता ने आपबीती अपने पिता से बताई। बेटी की ससुराल पहुंच बेबस पिता ने जब परिजनों से जानकारी चाही तो उसे व उसकी विवाहित पुत्री को आरोपी भसुर व सास ने मारपीट कर घायल कर दिया घटना की शिकायत स्थानीय थाने में दर्ज न होने पर पीड़ित पक्ष बुधवार को न्याय की गुहार लगाने एसपी दरबार पहुंच गया।

जहानागंज क्षेत्र की रहने वाली विवाहिता की शादी लगभग दो वर्ष पूर्व उसी क्षेत्र के मुस्तफाबाद ग्रामसभा निवासी युवक से हुई है। पीड़िता का पति परिवार की आजीविका चलाने के लिए मजदूरी करता है। पीड़िता का जेठ आटोरिक्शा चालक है। पीड़ित विवाहिता का आरोप है कि उसका भसुर पिछले चार माह से पीड़िता को जानमाल की धमकी देते हुए उसका शारीरिक शोषण करता रहा। बीते एक दिसंबर को पीड़िता ने अपने पिता को मोबाइल फोन के माध्यम से आपबीती बताई।

बेटी के साथ हो रहे घिनौने कृत्य की जानकारी पाकर पिता पुत्री के घर पहुंचा। बेबस पिता ने जब ससुराल वालों से उलाहना दिया तो उसे व उसकी विवाहित बेटी को आरोपित भसुर व उसकी मां ने लाठी डंडे से प्रहार कर घायल कर दिया। घटना के बाबत पीड़ित पक्ष शिकायत दर्ज कराने स्थानीय थाने पहुंचा। तहरीर देने के बावजूद भी कोई कार्यवाही न होने से दुखी पिता-पुत्री बुधवार को न्याय की गुहार लगाने एसपी कार्यालय पहुंचे। एसपी की अनुपस्थिति में पीड़ित पक्ष ने क्षेत्राधिकारी सदर मोहम्मद अकमल खान को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है।

Ashish Shukla
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned