scriptKalyan Singh Connection with Azamgarh | Kalyan Singh: जब कल्याण ने लोगों को समझाया था इंडिया और हिंदुस्तान का अंतर जो आज के समय सबसे बड़ा मुद्दा | Patrika News

Kalyan Singh: जब कल्याण ने लोगों को समझाया था इंडिया और हिंदुस्तान का अंतर जो आज के समय सबसे बड़ा मुद्दा

Kalyan Singh: चार दशक पूर्व यूपी बीजेपी का अध्यक्ष रहते हुए कल्याण सिंह ने अजमगढ़ की यात्रा में लोगों को इंडिया और हिंदुस्तान का अंतर समझाया था। उन्होंने बताया था कि आजादी के बाद देश इंडिया और हिंदुस्तान में बंट गया। 95 प्रतिशत हिंदुस्तानी है जो बदतर जिंदगी जी रहे है। उनके बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ते हैं और पांच प्रतिशत जो इंडिया में रहते है उनमे नेता, नौकरशाह है जिनके बच्चे कान्वेंट में पढ़ते है। इस अंतर को मिटाना होगा।

आजमगढ़

Published: August 22, 2021 02:58:45 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) का नाम आते ही लोगों के जेहन में राम मंदिर आंदोलन व नकल अध्यादेश कौध जाता है। कल्याण सिंह की सरकार में हाई स्कूल अथवा इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले आज भी गर्व से कहते हैं कि हमने कल्याण सरकार में पास किया था। आजमगढ़ में भी नकल के आरोप में कई शिक्षक और परीक्षार्थियोें के जेल जाना पड़ा था। लेकिन कल्याण सिंह ने जुड़े कुछ ऐसे भी किस्से हैं जिसे कम लोग ही जानते थे। उन्होंने जो बातें 1986 में बीजेपी का प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए कार्यकर्ताओं से कहीं थी आज वह देश का सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है।

आजमगढ़ की प्रथम यात्रा के दौरान गीता इंटर कालेज में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह व अन्य(फाइल फोटो)
आजमगढ़ की प्रथम यात्रा के दौरान गीता इंटर कालेज में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह व अन्य(फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी के श्रम प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय संयोजक रमाकांत मिश्र बताते हैं कि वर्ष 1986 में कल्याण सिंह यूपी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और कलराज मिश्र महामंत्री थी। उसी वर्ष कल्याण सिंह पहली बार गीता इंटर कालेज लालगंज मेें आयोजित दो दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेेलन में शामिल होने के लिए आये थे। उस समय रकाकांत मिश्र शिब्ली कालेज के छात्रसंघ उपाध्यक्ष व विद्यार्थी परिषद नेता थे। वे भी कल्याण सिंह को सुननेे के लिए लालगंज पहुंचे थे।

रमाकांत बताते हैं कि कल्याण सिंह का आजमगढ़ में पहला भाषण था और उन्होंने कहा था कि आजादी के बाद हिंदुस्तान को दो भागों में बांटा गया। एक इंडिया बनी, एक हिंदुस्तान बना । हिंदुस्तान 95 प्रतिशत हिस्सा है जिसमें गांव, गरीब, किसान झुग्गी झोपड़ी में रहने वाला इंसान रहता है। इंडिया यानि पांच प्रतिशत में आईएएस, आईपीएस, एमपी, एमएलए और मंत्रियों के बेटे रहते हैं। उनके बच्चे अंग्रेजी और पब्लिक स्कूलों में पढ़ते हैं जबकि गांव, गरीब, किसान का बेटा प्रायमरी या झुग्गी झोपड़ी में बने स्कूलों में पढ़ता है। यदि हिंदुस्तान को हिंदुस्तान बनाना है तो इस सिस्टम को बदलना होगा।

उन्होंने उस समय हिंदुस्तान बनाने के लिए बीजेपी सरकार बनाने की अपील की थी। कहा था कि हमारी जो पांच निष्ठाए हैं गांव, गरीब, किसान, झोपड़ी में रहने वाला इंसान, महिलाओं का उत्थान, सबका सम्मान इसे लेकर हम काम करेंगे तो आगे हमारी सरकार जरूर बनेगी। रमाकांत बताते हैं वर्ष 1988 में कल्याण सिंह ने आजमगढ़ की दूसरी यात्रा की। उस समय वे शिब्ली कालेज के छात्रसंघ अध्यक्ष के साथ ही बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष बन चुके थे।

कल्याण सिंह गाजीपुर से आ रहे थे युवा मोर्चा ने जहानागंज में उनका स्वागत किया। इसके बाद मेहता पार्क और जीयनपुर रामलीला मैदान में उनकी सभा हुई। इसके बाद उनके साथ गोरखपुर में रात्रि निवास करने का अवसर प्राप्त हुआ। कल्याण सिंह एक अच्छे नेता के साथ ही कवि भी थी। उनकी रचनाए कार्यकर्ताओं को प्रेरित करती थी।

रमाकांत के मुताबिक जिस हिंदुस्तान और इंडिया की बात कल्याण सिंह ने 1986 में की थी वह तब भी प्रासंगिक थी और आज भी। आज कल्याण सिंह की कही बात जनता की आवाज बन गयी है। अधिकारी और नेताओं से लोग यह सवाल बेधड़क पूछ रहे हैं कि आखिर उनके बच्चे सरकारी स्कूल में क्यों नहीं पढ़ सकते। कल्याण सिंह का जाना भारतीय राजनीति में अपूरणीय क्षति है जिसकी भरपाई संभव नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीबाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, देखते रहे गए पर्यटक, देखें टाइगर के शिकार का लाइव वीडियोइन 4 राशि की लड़कियों का हर जगह रहता है दबदबा, हर किसी पर पड़ती हैं भारीआनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा, जुगाड़ जीप बनाने वाले शख्स को बदले में दी नई Mahindra BoleroFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशदेश में धूम मचाने आ रही हैं Maruti की ये शानदार CNG कारें, हैचबैक से लेकर SUV जैसी गाड़ियां शामिल

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवानहीं चाहिए अवार्ड! इन्होंने ठुकरा दिया पद्म सम्मान, जानिए क्या है वजहजिनका नाम सुनते ही थर-थर कांपते थे आतंकी, जानें कौन थे शहीद ASI बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रबिहार में तिरंगा फहराने के दौरान पाइप में करंट से बच्चे की मौत, कई झुलसेरेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितएक गांव ऐसा भी: यहां इंसानियत ही सबसे बड़ा धर्मUP Assembly Elections 2022 : सपा सांसद आजम खां जेल से ही करेंगे नामांकन, कोर्ट ने दी अनुमतिहाईवे के ओवरब्रिजों में सीरियल बम प्लांट, जानिए सीएम योगी के लिए लेटर में क्या लिखा, Video
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.