मुलायम के संसदीय क्षेत्र में टूटता लोहिया का सपना

मुलायम के संसदीय क्षेत्र में टूटता लोहिया का सपना
village protesters

बेलहरी हसनपुर गांव में आजादी के बाद आज तक नहीं पहुंची बिजली

आजमगढ़. मार्टीनगंज तहसील का बेलहरी हसनपुर गांव कहने के लिए समग्र लोहिया गांव है लेकिन यहां के लोग ढिबरी युग में जी रहे हैं। गांव में झाड़ू भी कभी नहीं लगता, चारो तरफ गंदगी का अम्बार है। संक्रमण के खतरे से ग्रामीण परेशान हैं। पानी की भी अच्छी व्यवस्था नहीं है। विद्युत पोल गिरा है, यह कब गड़ेगा बताने वाला कोई नहीं है। मजबूर ग्रामीणों ने बुधवार को तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया और तहसीलदार को ज्ञापन सौंप तत्काल व्यवस्था में सुधार न होने पर क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था ठप करने की चेतावनी दी।
ग्रामीणों का कहना था कि वर्ष 2016-17 में गांव को समग्र लोहिया ग्राम के रुप में चयनित किया गया। पांच साल पहले गांव में बिजली के खम्भे तो लगा दिये पर आज तक बिजली नहीं आयी। ग्रामीणों ने कहा कि लोहिया गांव चुने जाने पर उम्मीद जगी कि शायद अच्छे दिन आ जाएं, पर ऐसा हुआ नहीं। 10 दिन पहले गांव में कुद और बिजली के खम्भे गिराए गए हैं। पर बिजली आज तक नहीं आयी। उन्होंने बताया कि पूरे गांव में गंदगी का अंबार है। सफाईकर्मी गांव में आते ही नहीं। बारिश में संक्रमण का खतरा बना रहता है। हैण्डपम्प भी गांव में काफी कम हैं, जिससे पेयजल समस्या से गांव के लोग जूझ रहे हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि यदि समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो वो लोग सबस्टेशन पर तालाबन्दी कर पूरे ब्लाॅक की बिजली व्यवस्था ठप कर देंगे। तहसीलदार जंगबहादुर यादव ने उन्हें कार्यवाही का आश्वासन देकर लौटाया। प्रदर्शन करने वालों में उर्मिला, मीना, हिरावती, इंद्रावती, लालमती, लालदेई, कलिंद्रा, बालकिशुन, सूचपत्ती, हिरौता, फूलचंद, लालमती आदि शामिल थे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned