माफिया ध्रुव कुमार सिंह कुंटू का घर होगा जमीनदोज, जारी हुई नोटिस

बिना नक्शा पास कराये माफिया ने बनवा लिया था तीन मंजिला मकान

पूर्व में प्रशासन जब्त कर चुका है कुंटू सिंह की आठ करोड़ की संपत्ति

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

आजमगढ़. योगी सरकार के निर्देश पर अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला जारी है। माफिया कुंटू सिंह की आठ करोड़ की अवैध ढंग से अर्जित संपत्ति को जब्त करने के बाद अब प्रशासन ने अवैध निर्माणों को ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। जीयनपुर में बिना नक्शा पास कराये कुंटू द्वारा बनवाए गए तीन मंजिला मकान को गिराने की नोटिस जारी कर दी गयी है। नगर पंचायत प्रशासन ने उसके मकान पर नोटिस चस्पा करते हुए पंद्रह दिनों में मकान खुद से गिराने की मोहलत दी है। अगर माफिया के परिवार के लोग खुद मकान नहीं गिराते तो प्रशासन उसे ध्वस्त करायेगा।

बता दें कि सगड़ी तहसील क्षेत्र के जीयनपुर कोतवाली के छपरा सुल्तानपुर निवासी ध्रुव कुमार सिंह कुंटू सपा के पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की हत्या के मामले में जेल में बंद है। उसके खिलाफ दर्जनों आपराधिक मामले विभिन्न थानों में दर्ज है। पिछले दिनों कुंटू द्वारा अर्जित की गयी आठ करोड़ से अधिक की संपत्ति को प्रशासन ने जब्त किया था।

कुंटु की पत्नी वंदना सिंह ब्लाक प्रमुख हैं। उसका जीयनपुर कस्बे में आजमगढ़-दोहरीघाट मार्ग पर तीन मंजिला मकान है। पांच नवंबर को नगर पंचायत प्रशासन ने नोटिस जारी करते हुए दोनों मकानों पर उसे गिराने के लिए नोटिस चस्पा कर दिया है। नोटिस में कहा गया है कि 15 दिनों में मकान को स्वयं ध्वस्त कर लें अन्यथा नगर पंचायत प्रशासन उसके बाद ध्वस्त कर देगा।

दोनों ही मकान को एक जुलाई 2020 को तत्कालीन उपजिलाधिकारी सगड़ी प्रियंका प्रियदर्शिनी एवं कोतवाल जीयनपुर गजानंद चैबे की उपस्थिति में सील कर तहसीलदार सगड़ी को इसका प्रशासक नियुक्त किया गया था। जिन दोनों मकानों पर ध्वस्तीकरण का नोटिस चस्पा किया गया है, उसकी कीमत छह करोड़, 46 लाख, 99 हजार, 402 रुपये आंकी गई है।

अधिशासी अधिकारी अखिलेश कुमार यादव ने बताया कि दोनों मकानों पर जिला प्रशासन के आदेश पर नोटिस चस्पा कर दिया गया है। जिलाधिकारी राजेश कुमार ने तीन नवंबर को नगर पंचायत जीयनपुर को मकान के निर्माण की वैधता जांचने के निर्देश दिए थे। जांच में निर्माण अवैध मिलने के बाद अब उसके ध्वस्तीकरण की कार्रवाई चल रही है।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned