दबंगों ने होटल संचालक को चलती ट्रेन से फेका, हालत गंभीर

-ट्रेन में सीट को लेकर दोनों पक्षों में हुआ था विवाद

-आरपीएफ ने युवक की कहानी को बताया संदिग्ध

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. भाई से मिलने जा रहे होटल संचालक को दंबगों ने सिधारी थाना क्षेत्र के बेलइसा के पास चलती ट्रेन से फेंक दिया। गंभीररूप से घायल युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बलिया जिले के गढ़वल थाना क्षेत्र के सतसड़ निवासी पवन जायसवाल 25 पुत्र अनिल जौनपुर जिले के मछलीशहर में होटल चलाकर परिवार का भरण पोषण करता है। शुक्रवार की सुबह वह ट्रेन से अपने बड़े भाई मनोज से मिलने आजमगढ़ जिले के नरौली आ रहा था।

ट्रेन में सीट को लेकर उसका अज्ञात लोगों से विवाद हो गया। सीट न मिलने पर वह गेट पर खड़ा था। इसी बीच तीन अज्ञात लोगों ने उसे चलती ट्रेन से नीचे फेंक दिया। युवक के ट्रेन से गिरने के बाद अफरा तफरी मच गयी। आसपास के लोगों की नजर घायल युवक पर पड़ी तो उन्होंने आरपीएफ के सूचना देने के साथ ही उसे अस्पताल भेजा। इस ममाले में आरपीएफ इंस्पेक्टर रमेश चंद मीणा का कहना है कि युवक की पूरी कहानी संदिग्ध है। क्योंकि शुक्रवार को उत्सर्ग एक्सप्रेस ट्रेन आती ही नहीं है। उसके पास टिकट भी नहीं थी।

BY Ran vijay singh

 

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned