आजमगढ़ में राष्ट्रीय ध्वज का अपमान, आवासीय स्कूल में फहराया उल्टा तिरंगा

विद्यालय प्रबंधन को नोटिस जारी कर मांगा गया स्पष्टीकरण

By: Akhilesh Tripathi

Published: 15 Aug 2018, 07:11 PM IST

आजमगढ़. देश भर में बुधवार को आजादी का जश्न मनाया गया। वहीं स्कूल प्रबंधन और शिक्षकों की लापरवाही के कारण जिले के आवासीय विद्यालय हीरापट्टी में तिरंगे को उल्टा फहरा दिया गया। जब इसकी जानकारी उप श्रमायुक्त को हुई तो उन्होंने ध्वज को सीधा कराया और विद्यालय प्रबंधन को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा। यह घटना चर्चा का विषय बनी हुई है।

बुधवार को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सभी सरकारी भवनों और स्कूलों में सुबह 8 बजे तिरंगा फहराया गया। मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार की तरफ से संचालित विहान बालिका आवासीय विद्यालय हीरापट्टी में भी निर्धारित समय पर ध्वजारोहण हुआ लेकिन ध्वज को उल्टा फहरा दिया गया। घंटों बाद किसी की नजर उसपर पड़ी तो इसकी शिकायत उप श्रमायुक्त रोशन लाल से कर दिया। फिर क्या था विभाग में हड़कंप गया। कारण कि यह विद्यालय निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए है। इसका संचालन श्रम विभाग से ही होता है। सन्निर्माण कल्याण बोर्ड उप्र से इसे वित्तीय सहायता मिलती है।

 

यह भी पढ़ें:

जिस युवती से हुई छेड़खानी उसी की मां से पुलिस ने मांगा पांच हजार की रिश्वत, न देने पर लाठियों से पीटा

 

उप श्रमायुक्त ने तत्काल स्कूल पर कर्मचारी भेजा और राष्ट्रीय ध्वज का सीधा कराया। इसके बाद उन्होंने विद्यालय प्रबंधन को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा। इस सबंध में उप श्रमायुक्त का कहना है कि यह लापवाही है मानवीय भूल ही हो सकती है। इसलिए स्पष्टीकरण मांगा गया है।

बता दें कि इसी तरह दो वर्ष पूर्व सिधारी थाने में राष्ट्रीय ध्वज उल्टा फहरा दिया गया था। उस समय काफी विरोध हुआ था। इस घटना के बाद भी विभाग सकते है कि कहीं लोग इसे मुद्दा न बना दें। इसलिए आनन फानन कार्रवाई शुरू कर दी गयी है। वहीं स्कूल से जुड़े लोग अथवा शिक्षक इस मामले में कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं हैं।

 

BY- RANVIJAY SINGH

Show More
Akhilesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned