scriptहिमाचल में तेजी से बदल रहे सियासी हालात! बीजेपी विधायकों के साथ गवर्नर से मिले जयराम ठाकुर | Political situation is deteriorating rapidly in Himachal Jairam Thakur met Governor along with BJP MLAs | Patrika News

हिमाचल में तेजी से बदल रहे सियासी हालात! बीजेपी विधायकों के साथ गवर्नर से मिले जयराम ठाकुर

locationनई दिल्लीPublished: Feb 28, 2024 08:20:53 am

Submitted by:

Prashant Tiwari

Rajaysabha Election: हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को हुए राज्यसभा के एक मात्र सीट के चुनाव में मिली जीत के बाद भाजपा नेताओं ने आज (बुधवार) को राज्य के राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला से मुलाकात की।

jairam.jpg

राज्यसभा की 15 सीटों के लिए उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को हुए चुनाव में क्रॉस वोटिंग के कारण तीनों राज्यों में सियासी पारा चढ़ा रहा। खासकर हिमाचल प्रदेश में जहां 40 विधायकों वाली कांग्रेस के छह विधायकों ने पार्टी प्रत्याशी अभिषेक मनु सिंघवी के खिलाफ वोट डालकर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार को ही खतरे में ला दिया है। यहां भाजपा के हर्ष महाजन को पार्टी के 25 विधायकों के अतिरिक्त कांग्रेस के छह और तीन निर्दलीय विधायकों के वोट भी मिले। इसके कारण कांग्रेस और भाजपा को 34-34 वोट मिलने पर लॉटरी से फैसला किया गया जो भाजपा के पक्ष में रहा।

वहीं, अब सूबे में सियासी हालात तेजी से बदल रहा है। बुधवार को सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता जयराम ठाकुर ने गवर्नर से मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि जयराम ठाकुर और गवर्नर की इस मुलाकात के बाद राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू को सदन में बहुमत साबित करने के लिए कह सकते है।

अल्पमत में है सुक्खू सरकार- जयराम ठाकुर
राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला से मिलने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मीडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमने आज राज्यपाल से मिलकर उन्हें राज्य में सियासी हालात के बारे में जानकारी दी है। कांग्रेस सरकार के पास बहुमत नहीं है तो नैतिक आधार पर वो इस्तीफा दें।
sukhu.jpgभाजपा ने विधायकों को किया किडनैपः सुक्खू

वहीं, इस पूरे मामले पर हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुक्खू ने कहा कि भाजपा द्वारा कांग्रेस के छह विधायकों और तीन निर्दलीय विधायको को किडनैप कर लिया गया है। बताया गया कि सीआरपीएफ व हरियाणा पुलिस की कॉन्वॉय इन सभी नौ विधायकों को मतदान के तुरंत बाद हरियाणा के पंचकुला ले गई है। राज्यसभा के मतदान के बाद नौ विधायक वापस सदन की कार्यवाही में नहीं पहुंचे। बदले गणित से विधानसभा में सुक्खू सरकार खतरे में आ गई है।
rahul.jpg

 

विधायकों के नाराजगी के बीच सीएम बदल सकती है कांग्रेस

राज्यसभा में मिली हार और विधायकों की तरफ से बार-बार नाराजगी जताने के बाद कांग्रेस हाईकमान सूबे में मुख्यमंत्री बदलने की योजना पर काम कर सकता है। सूत्रों के मुताबिक, इस मामले को लेकर मंगलवार देर रात कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीच बात हुई है।

himachal.jpg

 

बहुमत के लिए 35 विधायकों की जरुरत

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस के 6 विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के दौरान क्रॉस वोटिंग किया है। बता दें कि हिमाचल प्रदेश के 68 सदस्यी विधानसभा में किसी भी पार्टी को बहुमत के लिए 35 विधायकों की जरुरत है। 2022 विधानसभा चुनाव में भाजपा को राज्य की 25 सीटों पर जीत मिली थी और कांग्रेस ने 40 सीट अपने नाम किया था। वहीं, 3 सीटें अन्य के खाते में थी। ऐसे में अगर कांग्रेस के 6 विधायक सरकार के खिलाफ खड़े रहते है तो कांग्रेस के हाथ से उत्तर भारत का एक मात्र राज्य भी निकल जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो