उम्मीदवारों के खर्च की राशि तय, इतने से अधिक नहीं कर पाएंगें खर्च

प्रत्याशियों के साथ बैठक कर डीएम ने दी हिदायत

By: Sunil Yadav

Published: 12 Nov 2017, 10:42 AM IST

आजमगढ़. निकाय चुनाव को सकुशल संपन्न कराने में जुटे जिला प्रशासन ने शनिवार को नेहरूहाल के सभागार में नगर पालिका आजमगढ़ एवं मुबारकपुर के प्रत्याशियों और राजनीतिक दलों के साथ बैठक कर आदर्श आचार संहिता तथा व्यय लेखा के बारे में विस्तृत जानकारी दी। सभी से शांतिपूर्ण व निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने में सहयोग मांगा ।

 

अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीके गुप्ता ने कहा कि किसी अन्य राजनीतिक दल/उम्मीदवार या उसके समर्थक का पुतला लेकर चलने, उन्हें सार्वजनिक स्थलों पर जलाने अथवा इस प्रकार के अन्य कृत्य व प्रदर्शन नहीं करेगें, न ही उसका समर्थन करेगें और न ही निर्धारित व्यय सीमा से अधिक व्यय करेगें।

 

उन्होंने कहा कि किसी भी शासकीय सार्वजनिक सम्पत्ति, स्थल, भवन परिसर में वाल राइटिंग नहीं करेंगें। चुनाव प्रचार हेतु वाहनों के लिए जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त करेगें। सभा,रैली,जुलूस में लाउडस्पीकर या किसी प्रचार वाहन,वीडियों वाहन का उपयोग जिला प्रशासन की अनुमति लेकर ही करेगें तथा रात के 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक लाउडस्पीकर, साउण्ड बॉक्स का प्रयोग नहीं करेगें। मतदान के 48 घण्टे पूर्व सार्वजनिक सभा व चुनाव प्रचार बन्द कर दिया जायेगा।

 

 

उन्होंने बताया कि नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार 03, नगर पंचायत के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार 02, नगर पालिका परिषद के सदस्य पद के उम्मीदवार 01 तथा नगर पंचायत के सदस्य पद के उम्मीदवार 01 वाहन (दो पहिया वाहन सहित समस्त मैकनाइज्ड/मोटोराइज्ड वाहन) का संचालन निर्वाचन के प्रचार-प्रसार के लिए कर सकते है।

 

 

इसी प्रकार निर्वाचन प्रचार अवधि में जुलूस निकाले जाने हेतु नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार 10, नगर पंचायत के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार 05, नगर पालिका परिषद के सदस्य पद के उम्मीदवार के लिए 03 तथा नगर पंचायत के सदस्य पद के उम्मीदवार के लिए 02 वाहन सम्बन्धित उप जिलाधिकारी से अनुमति प्राप्त कर प्रयोग कर सकते है।

 

 

मुख्य कोषाधिकारी विजय शंकर ने बताया कि निर्वाचन पालिका परिषद के अध्यक्ष पद हेतु निर्वाचन व्यय की अधीकतम व्यय सीमा 6 लाख, सदस्य पद हेतु निर्वाचन की अधिकतम व्यय सीमा 3 लाख तथा नगर पंचायत के अध्यक्ष हेतु निर्वाचन व्यय की अधीकतम व्यय सीमा 1.50 लाख, सदस्य पद हेतु निर्वाचन की अधिकतम व्यय सीमा 30 हजार निर्धारित है। कोई भी राजनैतिक दल/प्रत्याशी प्रिण्ट मीडिया मे कोई भी छद्म विज्ञापन एवं पेड समाचार न प्रकाशित करेगा या न करवायेगा। यदि कोई व्यक्ति द्वारा राजनैतिक दल/प्रत्याशी की सहमति अथवा जानकारी में है तो यह मान जायेगा कि उक्त विज्ञापन सम्बन्धित राजनैतिक दल/प्रत्याशी द्वारा अधिकृत किया गया है और विज्ञापन का व्यय सम्बन्धित राजनैतिक दल/प्रत्याशी के चुनाव व्यय के खाते में जोड़ा जायेगा।

 

 

मुख्य कोषाधिकारी ने बताया कि निर्वाचन व्यय विवरण हेतु प्रत्याशी निर्धारित प्रारूप-पत्र के अनुसार रजिस्टर बनायेगें, जिसमें पृष्ठों की संख्या, नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत का नाम/वार्ड संख्या का विवरण अंकित करते हुए रजिस्टर में प्रतिदिन के व्यय का विवरण तिथिवार अंकित करेगें। एवं समस्त व्यय विवरण प्रपत्र से सम्बन्धित बिल/बाऊचर को फाईल में सुरिक्षत रखेगें। निर्वाचन समाप्त होने के उपरान्त सभी प्रत्याशियों द्वारा तीन माह के भीतर निर्वाचन से सम्बन्धित व्यय लेखा रिजस्टर बाउचर सहित नगर पालिका/नगर पंचायत स्तर पर गठित कमेटी को उपलब्ध करायेगें।

Sunil Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned