रोटी के बदले बनाया चावल तो पोते ने दादा- दादी को बेरहमी से पीटा, दादा की मौत

रोटी के बदले बनाया चावल तो पोते ने दादा- दादी को बेरहमी से पीटा, दादा की मौत
Beaten

बरदह क्षेत्र के हदिसा गांव की घटना से हतप्रभ है ग्रामीण, मानसिक रूप से बीमार है युवक

आजमगढ़. दोपहर के भोजन में रोटी की जगह चावल बनने से नाराज अर्धविक्षिप्त युवक ने वृद्ध दादा-दादी पर लाठी से प्रहार कर दिया। घटना के बाद हमलावर युवक बरदह थाने पहुंचकर समर्पण कर दिया। उधर गांव वालों की मदद से घायल वृद्ध दंपत्ती को इलाज के लिए लालगंज सीएचसी ले जाया गया। जहां 70 वर्षीय वृद्ध को चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। घटना बरदह थाना क्षेत्र के हदिसा गांव में मंगलवार की दोपहर घटित हुई। पुलिस ने समर्पण करने वाले युवक को हिरासत में ले लिया है।

बरहद थाना क्षेत्र के हदिसा ग्राम निवासी 70 वर्षीय बरखू राजभर के तीन पुत्र लालबहादुर, लालचंद व मोती सभी परिवार सहित चंडीगढ़ में रहकर फल का व्यवसाय करते हैं। कुछ समय पूर्व बरखू के बड़े पुत्र लालबहादुर के 30 वर्षीय पुत्र मुकेश का मानसिक संतुलन बिगड़ गया। मानसिक चिकित्सालय में इलाज कराने के बाद दो माह पूर्व मुकेश को चंडीगढ़ से गांव पर रह रहे दादा-दादी के पास भेज दिया गया। अर्धविक्षिप्त मुकेश का इलाज चल रहा था।
 
मंगलवार की सुबह बरखू की पत्नी सरजू देवी (65) की तबीयत ठीक न होने के कारण घर में भोजन नहीं बन सका। दोपहर में करीब दो बजे मुकेश भोजन के लिए घर पहुंचा और जब उसे पता चला कि भोजन नहीं बना है तो दादी से रोटी बनाने को कहा। तबीयत खराब होने के कारण महिला ने रोटी के बजाय चावल बना दिया। इससे नाराज मुकेश आवेश में आकर घर में रखे सामान फेंकने लगा।
 
यह देख उसके दादा बरखू व दादी सरजू देवी ने जब विरोध किया तो मुकेश दोनों पर लाठी लेकर टूट पड़ा। सिर में घातक चोट लग जाने के कारण पर बरखू मौके पर ही अचेत हो गया। जबकि सरजू देवी बुरी तरह घायल हो गई। वृद्धा के शोर मचाने पर जबतक गांव के लोग जुटते हमलावर मुकेश मौके से फरार हो गया। वह सीधे बरदह थाने पहुंचा और पुलिस को जानकारी दिया कि हमने अपने दादा-दादी को मार डाला है। यह सुनते ही पुलिस कर्मी भी हतप्रभ रह गए।
 
युवक को अर्धविक्षिप्त जान पुलिस ने हदिसा गांव के प्रधान से संपर्क साधा। प्रधान द्वारा दी गई जानकारी के बाद आरोपी मुकेश को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। उधर गांव वालों की मदद से घायल दंपत्ति को लालगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां चिकित्सक ने बरखू को मृत घोषित कर दिया। घायल वृद्धा का इलाज अस्पताल में चल रहा है। घटना की जानकारी पाकर बरदह थाना प्रभारी संजय कुमार रेड्डी व सीओ लालगंज एसपी तोमर भी घटनास्थल पर पहुंच गए। गांव वालों से घटनाक्रम की जानकारी लेने के बाद सीओ एसपी तोमर ने चंडीगढ़ में रहने वाले मृतक के पुत्रों से वार्ता की।
 
पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के परिजनों का चंडीगढ़ से आने का इंतजार किया जा रहा है। गांव वालों के अनुसार हमलावर मुकेश दो बच्चों का पिता है। इस घटना से गांव के लोग भी हैरान हैं। घटना के बाबत अभी पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned