ओमप्रकाश के बिगड़े बोल, कहा जब राजनीतिक दल से राज्यसभा जाएंगे जज तो संदेह होना लाजमी

सुप्रीम कोर्ट के चार जज मीडिया के सामने सरकार के खिलाफ करें प्रेसवार्ता तो कुछ गड़बड़ जरूर है

ओवैसी के साथ ओमप्रकाश राजभर ने भी सत्ता के साथ विपक्षी दलों पर साधा निशाना

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर का विवादित बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट के चीफ राजनीतिक दलों से राज्यसभा जाने लगे तो शंका होती है। देश में पहली बार ऐसा हुआ है कि लाशें श्मशान से घर आयी है। योगी राज में भ्रष्टाचार चरम पर है। भाजपा के लोग भ्रष्टाचारियों और अपराधियों का संरक्षण कर रहे हैं।

आजमगढ़ जिले के माहुल में मीडिया से बात करते हुए ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि जरा सोचिए इस देश की सर्वोच्च न्यायालय के चार-चार जज अगर मीडिया के सामने आकर अपनी पीड़ा बताएं तो कहीं न कहीं कुछ गड़बड़ है। सोचिये लोग मरने के बाद घर से श्मशान जाते है लेकिन इस सरकार में पहली बार ऐसा हुआ है कि श्मशान से लाशें घर आयी हैं। श्मशान में भी भ्रष्टाचार किया गया। जबकि भाजपा भ्रष्टाचार से मुक्ति दिलाने का वादा कर सत्ता में आयी थी। ठेकेदार कह रहा है कि जब चालीस प्रतिशत कमीशन देना है तो घर बेचकर थोड़े ही दीवार बनाएंगे। भ्रष्टाचारियों को सरकार संरक्षण दे रही है।

उन्होंने कहा कि बलिया में पाल की हत्या होती है तो अपराधी को बचाने में पूरी सरकार लग जाती है। हासरथ में बिंद की हत्या की जाती है तो अपराधियों के संरक्षण में पूरी भाजपा खड़ी हो जाती है। हम भेदभाव के खिलाफ लड़ रहे हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हैं। अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। भागीदारी संकल्प मोर्चे का गठन ही इसी उद्देश्य से किया गया है कि पिछड़े, दलितों, मुस्लिमों, शोषितों को उनका हक दिलाया जा सके। हमारा गठबंधन समाज को एकजुट कर 2022 में सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़कर जीत हासिल करेगा और यूपी में सरकार बनाएगा।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned