खेत के बाड़ में लगाया करंट, युवक व मवेशी की गई जान

खेत मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज

आजमगढ़. सब्जी की फसल को बचाने के लिए लगाए गए सुरक्षा बाड़ में किसान द्वारा प्रवाहित किए गए करंट की चपेट में आ जाने से 32 वर्षीय युवक एवं उसके कीमती मवेशी की मौत हो गई। घटना रौनापार थाना क्षेत्र के खैरघाट गांव में शनिवार की भोर में हुई। इस मामले में मृतक के पिता एवं क्षेत्र के अवर अभियंता ने खेत मालिक के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इस घटना से मृतक के घर कोहराम मचा हुआ है।

रौनापार क्षेत्र के खैरघाट ग्राम निवासी पतिराम पुत्र कन्हई पटेल ने अपने खेत में बोई गई आलू की फसल की सुरक्षा के लिए खेत के चारों ओर लगाए गए तार के बाड़ में करंट प्रवाहित किया था। शनिवार की भोर में करीब चार बजे गांव के नगीना विश्वकर्मा की गाय खूंटे से छूटकर भागी। गाय को पकड़ने के लिए नगीना का 32 वर्षीय पुत्र सूरज जी पीछे दौड़ा। बताते हैं कि उक्त गाय पतिराम के खेत के सुरक्षा बाड़ मेंं प्रवाहित करंट से सम्पर्क होते ही जमीन पर गिरकर तड़पने लगी।

लोहे के तार में प्रवाहित करंट से अनजान सूरज भी मवेशी को बचाने के प्रयास में करंट की चपेट में आ गया। मौके पर ही सूरज एवं गाय ने दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी गांव के लोगों को सुबह हुई। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी राजकुमार ने विद्युत विभाग के अवर अभियंता को बुलाकर खेत मालिक पतिराम के खिलाफ विद्युत चोरी व पशु क्रूरता का मामला दर्ज कराया। मृतक के पिता नगीना विश्वकर्मा ने भी खेत मालिक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

मृतक सूरज विश्वकर्मा जीविकोपार्जन के लिए गुजरात प्रांत के सूरत शहर में रहता था। एक सप्ताह पूर्व वह घर आया हुआ था। मृतक के एक पुत्र व दो पुत्री बताए गए हैं। पुलिस ने मौके पर पशु चिकित्सक को बुलाकर मृत मवेशी का पोस्टमार्टम कराया और फिर मवेशी के शव को गड्ढा खोदकर दफना दिया गया।

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned