चुनाव आयोग का फैसला, एक मतदान केंद्र पर छह से अधिक नहीं बनेंगे बूथ

एक बूथ पर केवल आठ सौ मतदाताओं को मतदान की होगी अनुमति

वर्तमान में जिले में है 33,78, 017 मतदाता, पुनिरीक्षण के बाद दो फीसदी बढ़ सकती है संख्या

आजमगढ. मतदाता पुनिरीक्षण कार्यक्रम शुरू होने के साथ ही त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियां तेज हो गयी हैं। चुनाव 2021 में होने की संभावना है। कोरोना संक्रमण और बूथों पर होने वाली भीड़ देखते हुए इस बार आयोग ने फैसला किया है कि एक बूथ पर 800 से अधिक मतदाता मतदान नहीं करेंगे। यही नहीं एक मतदान केंद्र पर छह से अधिक बूथ नहीं बन सकेंगे।

बता दें कि त्रिस्तरीय पंचायत का कार्यकाल दिसंबर में समाप्त हो रहा है। आयोग के निर्देश के बाद प्रशासन ने एक अक्टूबर से मतदाता पुनिरीक्षण का कार्यक्रम शुरू कर दिया है। जिले की 278 न्याय पंचायतों के 1858 ग्राम पंचायतों में मतदाता पुनिरीक्षण का कार्यक्रम चल रहा है। बीएलओ घर घर जाकर मतदाता सूची में मृतकों का नाम कम करने और नये मतदाताओं को जोड़ने में जुटी है। मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 29 दिसंबर को किया जाएगा।

वही दूसरी तरफ प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, जिला पंचायत सदस्य के लिए 2066 मतदान केंद्रों पर कुल 6328 बूथ बनाए गए हैं। अब आयोग द्वारा एक मतदान केंद्र पर अधिकतम 6 बूथ बनाने व एक बूथ पर अधिकतम 800 मतदाताओं के मतदान की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। ऐसे में बूथों की संख्या और बढ़ने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत एवं नगरीय निकाय) राकेश कुमार सिंह ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में इस बार एक बूथ पर 1200 के बजाय 800 मतदाता ही वोट डाल सकेंगे। राज्य निर्वाचन आयोग के आदेश के अनुसार एक मतदान केंद्र पर छह बूथ ही बनेंगे। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए इस समय निर्वाचक नामावली के वृहद पुनरीक्षण का कार्य चल रहा है। घर-घर जाकर बीएलओ(बूथ लेवल अफसर) गणना कार्ड पर नाम काटने, संशोधन एवं हटाने का कार्य शुरू कर दिए हैं। आयोग की तरफ से जारी सूची के अनुसार वर्तमान मे 33,78, 017 मतदाता हैं। पुनरीक्षण में दो फीसद नाम बढ़ेंगे तो आधा फीसद कम भी हो सकते हैं। ऐसे में कुछ बूथ और बढ़ सकते हैं।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned