रेल मंत्री सुरेश प्रभु की सद्बुद्धि के लिए बुद्धि-शुद्धि यज्ञ, जानिए क्यों नाराज हैं लोग

  रेल मंत्री सुरेश प्रभु की सद्बुद्धि के लिए बुद्धि-शुद्धि यज्ञ, जानिए क्यों नाराज हैं लोग
Protest

कैफियात एक्‍सप्रेस को मऊ से चलाने के फैसले से नाराज हैं लोग

आजमगढ़. आजमगढ़ से चलने वाली एक मात्र ट्रेन कैफियत एक्‍सप्रेस को मऊ से चलाने के प्रस्‍ताव की चर्चा के बीच जिले में आंदोलन तेज हो गया है। सामाजिक संगठन प्रयास और युवा मंच के बैनर तले गुरूवार को लोगों ने गाधी तिराहे पर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही रेल मंत्री को सदबुद्धि‍ आये और वे प्रस्‍ताव को रद्द करें इसके लिए बुद्धि-शुद्धि यज्ञ किया।

 

वक्‍ताओं ने कहा कि कैफी आजमी आजमगढ़ के धरोहर है और उनकी स्मृति में संचालन होने वाली कैफियत एक्सप्रेस को हम अन्यंत्र कहीं से नहीं चलने देंगे। इसके बाद यज्ञ स्थल से रैली निकाली गयी जो प्रमुख स्थानों से होते हुए रिक्शा स्टैंड पर पहुंचकर धरने में तब्दील हुई।





अध्यक्ष रणजीत सिंह ने कहा कि कैफी साहब आजमगढ़ की धरोहर है। उर्दू साहित्य में कैफियत को बड़े अदब और एहतराम का दर्जा हासिल है जो विश्व साहित्य में महत्वपूर्ण स्थान रखता है। कैफियत एक्सप्रेस आजमगढ़ यातायात की जीवन रेखा है, जिसका संचालन अन्यंत्र कहीं से करके आजमगढ़ के यात्री सुविधाओं को विकलांग बनाना चाहते है।

 

जनपदवासियों को समझ में नही आ रहा कि किन परिस्थितियों में कैफियत का संचालन मऊ से किये जाने की योजना बनायी जा रही है जबकि कैफियत सर्वाधिक राजस्व देने वाली ट्रेनों में शुमार है। इसी को लेकर हमने बुद्धि-शुद्धि यज्ञ करने का निर्णय लिया। युवा मंच के संयोजक किशन सिंह ने कहा कि कैफियत आजमगढ़ से ही चलेगी चाहे इसके लिए हमें कोई भी कुर्बानी देनी पड़े हम तैयार हैं।

 

विवेक पांडेय ने कहा कि रेलवे प्रशासन को यज्ञ के जरिये उनकी बुद्धि को शुद्ध करने का प्रयास किया जा रहा है हमें आशा है कि कैफियत पर पुनः विचार करते हुए शीध्र इस पर नोटिफिकेशन जारी किया जायेगा। इस मौंके पर सुनील यादव, शम्भू शरण सोनकर, अतुल श्रीवास्तव, श्रवण प्रजापति, आशीष मौर्या, बृजेश राय, डा हरगोविन्द विश्वकर्मा, मुन्ना उपाध्याय, विक्की, डा वीरेन्द्र पाठक, भोलू दुबे, श्रीकृष्ण किशन, राणा ज्ञानेन्द्र, कुणाल मौर्या, राहुल सिंह, भरत सिंह आदि उपस्थित थे।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned