भक्ति के रंग में रगा पौधरोपण अभियान, भगवान श्रीकृष्ण के कुबने का रूप धर किया पौधरोपण

भक्ति के रंग में रगा पौधरोपण अभियान, भगवान श्रीकृष्ण के कुबने का रूप धर किया पौधरोपण

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Sep, 03 2018 08:52:21 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

मोहाटी घाट पर सामूहिक पौधरोपण कर मनाया गया कृष्ण जन्मोत्सव।

आजमगढ़. जिलाधिकारी द्वारा शुरू किया गया तमसा सफाई एवं पौधरोपण अभियान अभियान जन्माष्टमी पर्व पर पूरी तरह भक्ति में सराबोर नजर आया। बच्चे भगवान श्रीकृष्ण, बलराम, नंद जी, देवकी आदि के रूप धारण कर तमसा नदी के मोहटी घाट पर पहुंचे और पौधरोपण किया। श्रीकृष्ण राधा और बाल गोपाल के साथ सामूहिक रूप से पौधारोपण कर जन्मोत्सव मनाए।

 

जन्माष्टमी पर्व पर एडीएम (प्रशासन) नरेंद्र सिंह के नेतृत्व में पौधरोपण किया गया। श्रीकृष्ण और राधा जब पौधारोपण करने लगे तो उपस्थित नंदकुमार बरनवाल( नन्द बाबा) व् अर्चना बरनवाल (यसोदा माँ) के साथ पौध लगाते फोटो खीचने की होड़ लग गई। एडीएम ने कहा कि आज का श्रीकृष्णउत्सव और पौधारोपण अभियान तमसा तट के मोहटी घाट पर वासुदेव और देवकी मईया के श्रीकृष्ण अवतार और नंदबाबा, यशोदा मईया, श्रीकृष्ण और राधा अपने बाल गोपाल के साथ पौधारोपण करते हुए यह मनोरम दृश्य जैसे लगा की तट पर स्वर्ग से पौधारोपण करने देवी देवता उतर चुके है।

 

प्रवीण सिंह ने कहा कि सांस्कृतिक और सामाजिक कर्मी अरविंद चित्रांश और न्यू कला केंद्र की विभा गोयल, अंकिता सिंह, बबीता राय ,स्नेहिल महिला मंडल की अध्यक्षा पूनम सिंह, गीता सिंह, अर्चना बरनवाल, सारिका श्रीवास्तव ,डॉ पूनम सिंह ने भी पौधरोपण किया। नित्यानंद मिश्रा व सरोज मिश्रा ने कहा कि आजमगढ़ में श्रीकृष्ण नन्दजी व् माँ यसोदा के साथ तमसा तट पर पौधे लगाकर पूरी दुनियां को एक बेहतर संदेश देने का प्रयास किया गया है।

 

राधा के रूप में प्राची अग्रवाल, माता-पिता निरज व नीतीशा अग्रवाल, कृष्ण के रूप में आर्थ अग्रवाल, माता पिता धीरज व श्रुति अग्रवाल, राधा के रूप में माही चित्रांश, अंशिका चित्रांश, माता पिता अरविंद चित्रांश व सारिका चित्रांश, भाई कौशिक श्रीवास्तव, श्रीकृष्ण के रूप में नव्या गोयल, माता पिता श्रद्धा गोयल रितेश गोयल, राधा के रूप में परिधि अग्रवाल, माता (स्वप्निल अग्रवाल), श्रीकृष्ण के रूप में दिवान्श अग्रवाल, माता पिता निखिल अग्रवाल व छवि अग्रवाल ,राधा के रूप में वरुन्या गोयल ,माता-पिता विकास गोयल व सुधा गोयल ने सराहनीय प्रदर्शन किया।

By Ran Vijay Singh

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned