जहरीली शराब कांड, सरकार के खिलाफ मैदान में उतरे सपाई, लगाया गंभीर आरोप

आजमगढ़ अंबेडकर नगर बार्डर पर जहरीली शराब से हुुई 27 मौत का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को पीड़ित परिवार से बात की और सरकार और प्रशासन पर मामले को दबाने का आरोप लगाया।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. अंबेडकर नगर व आजमगढ़ बार्डर पर हुए जहरीली शराब कांड में 27 की मौत के मामले ने तूल पकड़ लिया है। समाजवादी पार्टी इसे बड़ा मुद्दा बनाने में जुट गयी है। पार्टी के नेता जिलाध्यक्ष हवलदार यादव की अगुवाई में शुक्रवार को मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवारों से मुलाकात किये। इस दौरान उन्होंने सरकार और प्रशासन पर अपनी नाकामी छिपाने के लिए शराब से हुई मौत को नार्मल मौत बताने का आरोप लगाया। सपाइयों ने आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई तथा पीड़ित परिवारों को मुआवजा देने की मांग की।

समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश पर जिलाध्यक्ष हवलदार यादव के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल पवई थाना क्षेत्र के मैनुद्दीनपुर गांव में पहुंचा था। लोगों से बातचीत के बाद हवलदार यादव ने कहा कि स्थानीय लोगों ने जानकारी मिली है कि शराब पीते से मरने वालों की संख्या काफी अधिक है लेकिन प्रशासन द्वारा ज्यादातर लोगों का पोस्टमार्टम ही नहीं कराया गया। बस ऐसे ही कह दिया गया कि मौत शराब पीने से नहीं हुई है। प्रशासन अपनी नाकामियों को छिपाने में व्यस्त है और यहां लोग बेमौत मारे जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शराब माफिया, पुलिस व आबकारी विभाग की साजिश से नम्बर 2 की शराब बहुत दिनों से यहं बिकती है। वर्तमान सरकार के स्थानीय नेताओं के संरक्षण में यह गलत काम हो रहा था। कल तक सत्तापक्ष का विधायक या अन्य कोई प्रतिनिधि मौक पर नहीं पहुॅचा। पूर्व विधायक श्यामबहादुर यादव ने कहा कि ऐसे जघन्य अपराध के लिए शराब माफिया, स्थानीय पुलिस व आबकारी विभाग के अधिकारियों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार किया जाय। समाजवादी पार्टी जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से मिलकर दोषियों के विरूद्ध कठोर से कठोर कार्रवाई की मांग करेगी। सपा नेताओं ने मांग किया कि सभी पीड़ितों को सरकार मुआवजा दे।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned