ममेरे भाई ने ही मां-बेटी को घायल कर किया दुष्कर्म, फिर तेहरे हत्याकांड को दिया अंजाम

खून से लथपथ तड़पती रही महिला और अपनी हवस मिटाता रहा आरोपी, 3 घंटे तक आरोपी ने खेला खूनी खेल, फिर वीडियो बनाकर अपनी भाभी को दिखया

आजमगढ़. ऐसे तो हैवानियत की घटनाएं अक्सर देखने को मिल जाती है लेकिन ऐसी हैवानियत न किसी ने देखी होगी और ना ही सुनी होगी। हवस के भूखे ममेरे भाई ने अपनी बुआ की बेटी और भांजी के साथ जो किया उसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। जिसने भी कल्पना की उसकी रूह कांप गयी। कारण कि मामला सिर्फ दुष्कर्म का नहीं था बल्कि पति की हत्या के बाद पत्नी और उसकी नाबालिग बेटी को घायल कर दुष्कर्म और फिर हत्या का है।

महिला और उसकी बेटी खून से लथपथ तड़प रही थी और उसी का अपना उसके साथ दुष्कर्म कर रहा था। वह भी एक बार नहीं बल्कि बार-बार। यहीं नहीं उसने इस हैवानियत की वीडियो भी बनाई और अपनी सगी भाभी को दिखा दिया। जब भाभी ने फटकार लगायी तो मोबाइल को नदी में फेंक दिया। आरोपी के खुलासे के बाद पुलिस गोताखोरों की मदद से उस मोबाइल की तलाश कर रही है।

घटना मुबारकपुर थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर गांव की है। इस गांव निवासी एक युवक गांव के बाहर मकान में रहता था। 24 नवंबर की रात युवक उसकी पत्नी व चार माह की पुत्री की बेरहमी से हत्या कर दी गयी थी, जबकि मृतक की 10 वर्षीय पुत्री व 4 वर्षीय पुत्र को गंभीररूप से घायल हो गये थे।

जब पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला की लाश नग्न थी और पास में ही कांडोम पड़ा था। मौके पर घर के सामान बिखरे थे। चुंकि मृतका का पूरा परिवार गरीब था इसलिए वह तुरंत समझ गयी यह मामला लूट का नहीं हो सकता और वह दुष्कर्म के बाद हत्या मानकर जांच में जुट गयी। आरोपी को पकड़ने के लिए फारेंसिक टीम और डाग स्क्वायड का सहारा लिया लेकिन आरोपी तक नहीं पहुंच पाई।

वहीं दूसरी तरफ अर्धचेतन हाल में अस्पताल में भर्ती किशोरी से जब फोटो दिखाकर आरोपी के पहचान की कोशिश हुई तो उसके इशारे पर पुलिस ने नट बस्ती के इम्तेयाज नट पुत्र नेसार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली लेकिन पूछताछ में यह साफ हो गया कि युवक निर्दोष है। इसके बाद पुलिस ने अन्य पहलुओं पर जांच शुरू की।

विवेचना के दौरान पुलिस को पता लगा कि गांव का एक युवक कई दिन से घर से बाहर नहीं निकल रहा और रात में मृतकों के कब्र पर जाता है। यहीं नहीं घटना वाले दिन वह मौके पर मौजूद था लेकिन जब पुलिस का खोजी कुत्ता पहुंचा तो वह भाग गया। इसके बाद पुलिस के शक की सुई उस युवक की तरफ घूमी और वह युवक का नंबर पता कर सर्विलांस पर लगा दी। वहीं मृतक की पुत्री जब स्वस्थ्य हुई तो नजीरूद्दीन पुत्र अब्दुल अजीज अंसारी निवासी इब्राहिमपुर थाना मुबारकपुर द्वारा घटना को अंजाम देने की पुष्टि की। इसके बाद पुलिस ने आज आरोपी के घर जाकर गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के मुताबिक वह पहले एक दुकान ने सेक्स की दवा और कांडोम खरीदा फिर महिला के घर गया। घर में घुसते ही पहले महिला के पति पर ईंट से हमला किया और जब वह मर गया तो उसने महिला पर ईट से प्रहार किया। वह खून से लथपथ तड़पती रही लेकिन उसने उसके साथ दो बार रेप किया। इसी दौरान उसकी बेटी ने चोर-चोर कह शोर मचाया तो उसपर भी हमला कर दिया। फिर उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर चार साल के बच्चे को भी घायल कर दिया।

उसने पूरे घटनाक्रम की वीडियो यह साबित करने के लिए बनाया कि जब वह घर से बाहर निकला तो पति को छोड़ सभी जिंदा थे। आरोपी तीन घंटे तक घर के भीतर रहा। यही नहीं उसने महिला का कपड़ा दूर खेत में फेंक दिया। घर जाकर अपनी मोबाइल में तैयार वीडियो अपनी भाभी को दिखाया जब भाई ने उसे भला बुरा कहा और मोबाइल तोड़कर फेकने को कहा तो उसने उसे तमसा नदी में फेंक दिया। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने महिला का कपड़ा तो बरामद कर लिया है लेकिन मोबाइल अब तक नहीं मिली है। तलाश के लिए गोताखोर लगाए गए हैं। अब आरोपी का कहना है कि उसे घटना का अफसोस है कारण कि मृतका उसकी फुफेरी बहन थी। इसीलिए वह हर रात में उसकी कब्र पर जाता था।

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned