मतदाताओं को लुभाने के लिए चल रही थी मीट पार्टी, पुलिस ने पूर्व प्रधान व उसके भाई को किया गिरफ्तार

-पूर्व प्रधान के ट्यूबवेल पर चल रही थी दावत, भारी संख्या में लोेग थे एकत्र

-पुलिस के पहुंचते ही मची अफरातफरी, मीट नष्ट कर बर्तन थाने ले आयी पुलिस

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए गांवों में चल रहा शराब बांटनेे व मीट पार्टी का खेल पर प्रत्याशियों को भारी पड़ने लगा है। अभी एक सप्ताह पूर्व जहां पुलिस ने तरवां क्षेत्र में एक पूर्व प्रधान को शराब बांटते हुए पकड़ा था वहीं शुक्रवार की रात जहानागंज थाना क्षेत्र के गोधौरा गांव में पूर्व प्रधान व उसके भाई को मीट पार्टी करते हुए गिरफ्तार किया। पुलिस ने दोनों को चुनाव अचार संहिता के दौरान वोटरो को प्रभावित करने के लिये मीट पार्टी देने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बता दें कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत चुनाव आचार संहिता व धारा 144 लागू की गयी है। आर्दश आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराने के लिए प्रभारी निरीक्षक जहानागंज संदीप यादव शुक्रवार की रात क्षेत्र भ्रमण पर थे। उसी दौरान मुखबिर से सूचना मिली कि गोधौरा गांव के पूर्व प्रधान राकेश राय उर्फ बबलू राय अपने पोखरा पर स्थित ट्यूबेल पर अपने गोल के प्रधान प्रत्याशी के पक्ष में गांव के लोगो को इकट्ठा कर मीट पार्टी दे रहा है। पार्टी में मतदाताओं को तरह तरह का प्रलोभन दिया जा रहा है।

इसके बाद पुलिस टीम पोखरे पर पहुंच गई। वहां मौजूद किसी ने मास्क नहीं लगाया था। एक बड़े भगोने में मीट बन रहा था। वहां पर दो व्यक्ति अपने प्रत्याशी के लिये वोट देने की बात कह रहे थे और यह भी कह रहे थे कि आप को जितनी भी दावत खानी हो खा लिजिये पर वोट हमारे गोल के प्रधान पद के प्रत्याशी को ही दीजियेगा। पुलिस ने घेरेबंदी कर लोगों को पकड़ने का प्रयास किया तो अफरा तफरी मच गयी। लोग भागने में सफल रहे। पुलिस ने मौके से पूर्व प्रधान राकेश राय उर्फ बबलू राय व योगेश राय पुत्रगण शिवकुमार राय को गिरफ्तार कर लिया।

इसके बाद पुलिस ने मौके पर बन रहे मीट को नष्ट कर बर्तन व औजार कब्जे ले लिया। पुलिस ने राकेश व उसके भाई योगेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि इस बार भी हमारी चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी थी परन्तु सीट अनुसूचित वर्ग में सुरक्षित हो जाने के कारण चुनाव नहीं लड़ पाए। इसलिये एक अनुसूचित वर्ग के प्रधान प्रत्याशी को समर्थन कर रहे है । गांव के वोटरो को उसके पक्ष में वोट देने व प्रभावित करने के लिये यह पार्टी दिये थे।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned