scriptProfessor Yogendra Yadav Speech On Kisan Mahapanchayat in Azamgarh | अहंकार और नफरत से नहीं चलती सरकार, करना पड़ता है कामः प्रो. योगेंद्र यादव | Patrika News

अहंकार और नफरत से नहीं चलती सरकार, करना पड़ता है कामः प्रो. योगेंद्र यादव

सरायमीर के पवई लाडपुर में आयोजित किसान महापंचायत को प्रो. योगेंद्र यादव ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला और कहा कि अहंकार और नफरत से सरकार नहीं चलती, काम करना पड़ता है। इस दौरान उन्होंने स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार एमएसपी लागू करने की मांग की।

आजमगढ़

Published: December 08, 2021 08:01:44 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. सरायमीर के पवई लाडपुर में आयोजित एमएसपी अधिकार किसान महापंचायत को को संबोधित करने हुए जय किसान आंदोलन के संस्थापक प्रो. योगेंद्र यादव ने कहा कि स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट केे अनुसार एमएसपी लागू हो जाए तो पूरे देश के किसान, मजदूर, दुकानदार सहित सभी उपभोक्ता खुशहाल हो जाएंगे लेकिन सरकार इसपर ध्यान नहीं दे रही है। सरकार को समझना होगा कि सत्ता अंहकार और नफरत से नहीं चलती, काम करना पड़ता है।

किसान महापंचायत में शामिल लोग
किसान महापंचायत में शामिल लोग

बता दें कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के संबंध में सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा के निर्णायक मीटिंग होने के कारण महापंचायत में े शामिल नहीं हो सके योगेंद्र यादव वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार अहंकार, नफरत, फैलाकर व आम जनता के ऊपर लाठियां बरसाकर अथवा ठोकर मारकर नहीं चलती। सरकार चलने के लिए काम करना पड़ता है। जुर्म के खिलाफ लोगों को सामाजिक न्याय वह हक दिलाने के लिए हम हमेशा लड़ते रहेंगे। वे लोग समाज को तोड़ेंगे हम जोड़ेंगे। वे नफरत फैलाएंगे, हम सबको प्यार से गले लगाएंगे।

आज अगर देश व प्रदेश की सरकार निरंकुश है तो इसके लिए विपक्ष भी जिम्मेदार है जो अपनी भूमिका निभाने में विफल रहा है। हम 700 शहीद किसानों का बलिदान भुला नहीं सकते हैं। हमारे निहत्थे किसानों को सरेआम गाड़ियों से रौंदा गया। लखीमपुर खीरी हत्याकांड का मुख्य सूत्रधार 120बी का मुलजिम गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी का अभी तक गिरफ्तार व बर्खास्त न होना बड़े शर्म की बात है। ऐसे अराजकतत्वों को सबक सिखाना होगा।

श्री यादव ने कहा की प्रधानमंत्री मोदी सदन में कहते हैं की एमएसपी है थी और रहेगी लेकिन विशेषकर पूरे उत्तर प्रदेश में धान क्रय केंद्र तो नाम पर खोले गए हैं। किसानों के सरकारी रेट पर खरीदारी न के बराबर है। यहां के किसानों ने बताया की हम अपना धान 12 सौ रुपए प्रति कुंतल पर बेचने को मजबूर हैं। जनता जिस दिन अपने अधिकारों को समझ लेगी देश के लुटेरों को भागने के लिए जगह मिलेगी। किसान महापंचायत को पुष्पेंद्र कुमार, दीपक लाम्बा, मो. हासिम खान, राहुल पांडेय, अर्चना श्रीवास्तव, रंजीत यादव, संजय कुमार, ओमपाल सिंह चौहान, हफीजुरर्हमान टनटन आदि लोगों ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जय किसान आंदोलन के जिलाध्यक्ष मयाशंकर यादव तथा संचालन कार्यक्रम संयोजक राजनेत यादव ने किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.