व्यवसायी की हत्या के विरोध में राष्ट्रीय राजमार्ग ठप

बाद में पुलिस और अफसरों के आश्वसन पर जाम ख़त्म हुआ

भदोही. यूपी के भदोही में दो दिन पूर्व चावल व्यवसायी की हत्या के विरोध में शनिवार को हत्यारों की गिरफ्तारी और परिजनों को आर्थिक मुवावजे को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग पर शव रख कर जाम कर दिया गया। दो घंटे से अधिक समय तक जाम रहा। जिसकी वजह से महराजगंज में वाराणसी- प्रयागराज राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात हुआ प्रभावित हुआ। बाद में पुलिस और अफसरों के आश्वसन पर जाम ख़त्म हुआ।

भदोही जिले के औराई कोतवाली के महराजगंज निवासी चावल व्यवसायी शिव कुमार गुप्ता की पैसों के लेनदेन में दो दिन पूर्व हत्या कर दी गई थी। उसका शव जनपद मिर्जापुर के चील्ह थाना क्षेत्र के एक कुएं से बरामद किया गया था। पोस्टमार्टम के बाद शव मिलने पर परिजनों ने राजमार्ग पर जाम लगा दिया। मृतक के भतीजे पवन कुमार गुप्ता की तरफ़ से पुलिस को दी गई तहरीर में आरोप लगाया है कि चाचा शिव कुमार गुप्ता चावल का व्यवसाय करते थे।

आरोप है कि वर्जीकला की एक निजी चावल मिल से चावल लेकर प्रदीप कुमार दुबे उर्फ पिंटू ग्राम विठला थाना मिर्जामुराद जनपद वाराणसी को बेंच दिए थे। चावल की कीमत ₹29 लाख बताई गई है। जिसमें चावल खरीदने वाले व्यापारी ने 25 लाख से अधिक की रकम बकाया रखी थीं। जिसकी वजह से उधारी वापस करने के लिए चाचा सम्बन्धित व्यापारी से दबाव बना रहे थे। आरोप है कि उधारी पैसा वापस न करना पड़े, उसी वजह से चाचा की हत्या की गई।

आरोपी व्यापारी ने औराई कोतवाली के सहसे निवासी एक मित्र के साथ मिलकर चाचा शिव कुमार गुप्ता को हत्या के पूर्व औराई में होंडा एजेंसी के पास बुलाया तथा अपनी निजी कार में ले जाकर उनकी हत्या कर लाश को जनपद मिर्जापुर के चील्ह थाना क्षेत्र में एक कुएं में डाल दिया गया। जहाँ से दो दिन पूर्व शव को बरामद किया गया। पुलिस ने सभी तीन मुख्य और अन्य के खिलाफ़ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जिसके खिलाफ़ गुस्साए परिजनों ने राजमार्ग पर जाम लगाया। पुलिस के समझाने की वजह से किसी तरह जाम ख़त्म हुआ।

Ashish Shukla Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned