गरीबों को बड़ी राहत, राशन के साथ तीन महीने प्रति कार्ड एक किलो चीनी देगी सरकार

कोरोना संक्रमण के चलते बढ़ी गरीबों की मुश्किल को दूर करने के लिए सरकार ने अब निःशुल्क राशन के साथ ही रियायती दर पर चीनी भी देने का फैसला किया है। जिले के 105586 अंत्योदय कार्ड धारकों को तीन महीने की प्रति एक किलों चीनी एक साथ दी जाएगी।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. कोरोना काल में सरकार गरीबों की समस्या को ध्यान में रखते हुए सरकार ने को तीन किलो चीनी रियायती दर पर देने का फैसला किया है। प्रतिमाह एक-एक किलो के हिसाब से सरकार ने एकमुश्त तीन किलो चीनी देने का आदेश जारी कर दिया है। एफसीआई गोदामों से चीनी का उठान भी शुरू हो गया है। जून माह के दूसरे चरण के राशन वितरण के साथ ही अंत्योदय कार्डधारकों को चीनी दी जाएगी। सरकार की इस योजना से जिले के 105586 अंत्योदय कार्ड धारक लाभांवित होंगे।

बता दें कि सरकार ने करीब दो साल पहले सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर चीनी का वितरण बंद कर दिया था। अब केवल राशन का वितरण होता है। कोरोना की दूसरी लहर में भी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत जिले के सभी 7,93,626 राशनकार्डधारकों को मई व जून माह में पांच किलो अतिरिक्त राशन प्रति व्यक्ति मुफ्त में दिया जा रहा है।

अब सरकार ने सरकारी गल्ले की दुकानों से सभी अंत्योदय कार्ड धारकों को तीन माह तक प्रति माह एक किलो चीनी देने का फैसला किया है। जिले में 01 लाख 05 हजार 586 अंत्योदय कार्डधारक हैं। इन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि राशन की दुकानों से दो साल पहले चीनी मिलनी बंद हो चुकी है लेकिन कोरोना काल में अंत्योदय कार्डधारकों को सरकार ने तीन महीने के लिए प्रतिमाह एक-एक किलो चीनी देने का निर्णय लिया है।

बीते वर्ष भी सरकार ने कोरोना की पहली लहर के दौरान तीन किलो चीनी अंत्योदय कार्डधारकों को रियायती दर पर दी थी। सरकार ने तय किया है कि सभी अंत्योदय कार्डधारकों को 18 रुपये प्रति किलो की रियायती दर पर चीनी दी जाएगी। चीनी का उठान गोदामों से शुरू हो गया है। सभी राशन की दुकानों तक चीनी जल्द पहुंच जाएगी।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned