आजमगढ़ में दिल दहला देने वाला हादसा, एक किलोमीटर तक शव को घसीटता ले गया रोडवेज बस

आजमगढ़ में दिल दहला देने वाला हादसा, एक किलोमीटर तक शव को घसीटता ले गया रोडवेज बस

Akhilesh Kumar Tripathi | Publish: Jul, 30 2018 07:28:59 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

स्थानीय लोगों ने बस को रूकवाकर शव को निकाला

आजमगढ़. जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के अंजानशहीद बाजार के पास रविवार की देर शाम रोडवेज बस की चपेट में आ जाने से 42 वर्षीय सैलून संचालक की मौत हो गई। दुर्घटना के बाद भाग रही रोडवेज बस में फंसे क्षत-विक्षत शव को देख लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। स्थानीय लोगों ने वाहन का पीछा कर एक किलोमीटर दूर केशवपुर जंगल के पास बस रोका और उस में फंसे शव को क्षत-विक्षत हालत में बाहर निकाला गया।
जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के नूरुद्दीनपुर ग्राम निवासी 42 वर्षीय सीताराम शर्मा पुत्र स्व. वासुदेव अंजान शहीद बाजार में सैलून का संचालन करता था। रविवार की देर शाम करीब आठ बजे वह दुकान बंद कर सब्जी ख़रीदा और पैदल घर के लिए रवाना हुआ। इसी दौरान जीयनपुर की ओर से आ रही रोडवेज बस की चपेट में आ जाने से सीताराम का शव बस में फंस गया। दुर्घटना के बाद मौके से भाग रही रोडवेज बस को स्थानीय लोगों ने पीछा कर केशवपुर जंगल के पास रुकवाया। इसके बाद बस में फंसे क्षत-विक्षत शव को बाहर निकाला गया। हादसे की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस घटना से मृतक के घर कोहराम मचा हुआ है।

 

सड़क हादसे में घायल दूसरे युवक ने भी तोड़ा दम

आजमगढ़ शहर से सटे भंवरनाथ मंदिर के समीप शनिवार की रात हुए सड़क हादसे में घायल दूसरे युवक ने भी रविवार की रात इलाज के लिए वाराणसी ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया।

बता दें कि शहर के आसिफगंज मोहल्ला निवासी अमन गुप्ता (20) पुत्र बजरंगी गुप्ता तथा दलसिंगार मोहल्ला निवासी रोहित वर्मा (20) पुत्र मुन्नालाल सेठ दोनों आपस में मित्र थे। शनिवार कि रात दोनों सावन के पहले दिन भंवरनाथ मंदिर पर आयोजित श्रृंगार दर्शन में शामिल होने के लिए बाइक से गए थे। रात करीब दस बजे वापस घर लौटते समय ट्रक की चपेट में आ जाने से अमन गुप्ता की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि रोहित वर्मा गंभीर रूप से घायल हो गया।

इलाज के लिए उसे शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर देख घायल रोहित को परिजन बेहतर इलाज के लिए वाराणसी ले जा रहे थे कि रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया। मृतक पांच भाइयों में तीसरे नंबर पर था तथा उसकी एक बहन भी है।

 

BY- RANVIJAY SINGH

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned