प्रशासन द्वारा किसानों की फसल रौंदवाने से नाराज सपाइयों ने डीएम कार्यालय पर किया प्रदर्शन

लिंक एक्सप्रेस-वे निर्माण के लिए दो दिन पूर्व खड़ी फसल में चलाई गयी थी जेसीबी

सपाइयों ने डीएम को ज्ञापन सौंप आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे निर्माण के लिए प्रशासन द्वारा दो दिन पूर्व अतरौलिया थाना क्षेत्र के गदनपुर में किसानों की फसल जेसीबी से रौदने का मामला तूल पकड़ लिया है। घटना से आक्रोशित समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया। फसल रौदने और किसानों पर लाठीचार्ज करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

सपा कार्यकर्ताओं ने पूर्वांह्न करीब 11 बजे जिला कार्यालय से जुलूस निकाला। कलेक्ट्रेट पहुंचने के बाद जिला प्रशासन और केंद्र तथा प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद सपाइयों का प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष हवलदार यादव के नेतृत्व में डीएम से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा।

हवलदार यादव ने कहा कि अतरौलिया थाना क्षेत्र के गदनपुर, अकबेलपुर, हैदरपुर खास, गोहरपुर, सेमापुर, कुकुरीपुर, गोरथानी, शेखपुरा, चत्तूपुर, करवा रसूलपुर आदि गांवों के किसानों से लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए भूमि का बैनामा नहीं कराया गया और ना ही उन्हें मुआवजा दिया गया। इसके बाद भी प्रशासन भूमि का अधिग्रहण कर रहा है। किसानों की खड़ी फसल को मनमाने ढंग से रौद दी गयी। यह सीधे तौर पर प्रशासन की मनमानी है।

उन्होंने कहा कि जब किसानों ने कार्रवाई का विरोध किया तो उन्हें बर्बरता पूवर्क लाठियों से पीटा गया। बिना मुआवजा भूमि पर अवैध ढंग से कब्जा बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सरकार किसानों को पूर्व सरकार की भांति प्रति बिस्वा 14 लाख रूपये मुआवजा दे। नियम विरूद्ध भूमि पर अवैध कब्जे का प्रयास करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाय। किसानों की बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा दिया जाय। यदि हमारी मांगें पूरी नहीं हुई तो हम आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

BY Ran vijay singh

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned