फेल हुआ मोदी का स्‍वच्‍छता मिशन, बिना सीट की शौचालय बनाकर लाखों का गोलमाल

फेल हुआ मोदी का स्‍वच्‍छता मिशन, बिना सीट की शौचालय बनाकर लाखों का गोलमाल
Scam

शौचालयों के निर्माण के लिए करोड़ो रूपये खर्च कर रही है सरकार 

आजमगढ़. सरकार द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालयों के निर्माण के लिए सरकार करोड़ो रूपयें खर्च कर रही है। लेकिन पंचायत विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के चलते योजना धरातल पर पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दे रही है। जिले के शौचालयों में न तो गड्डे खोदे गये है और न ही सीट ही लगी है, केवल ऊपर से शौचालयों का कमरा बना दिया गया है जो उपयोग के लायक नही है।

 

तहबरपुर ब्लॉक के लोहिया गांव मधसिया का चयन वित्तीय वर्ष 2015-16 में डॉ. राम मनोहर लोहिया गांव के रूप में हुआ था। गांव में बनने वाले शौचालयों का निर्माण प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारी ठेकेदार के माध्यम से निर्माण कार्य कराये गये,  किन्तु शौचालयो मे आज तक किसी की सीट नही लगी, तो किसी का गड्ढा ही नहीं बना कमरे बना कर दरवाजे लगा दिये गये है । गांव में बने शौचालयो मे इक्का दुक्का छोड कर लगभग सभी बेकार ही पड़े हैं, जो सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छ भारत अभियान का माखौल उड़ा रहे है।


यह भी पढ़ें:

शिवराज के बाद अब यूपी में बढ़ सकती है योगी की मुसीबत, इस संगठन ने किया बड़े आंदोलन का ऐलान
 

ग्राम विकास अधिकारी वीरेन्द्र सोनकर ने बताया कि गांव मे  203 लोगों को बारह सौ रुपये के हिसाब से 203 लोगों को धन उपलब्ध कराया गया है और 29 लोगों को लोहिया आवास दिया गया है। उन्होंने कहा कि शौचालय कितना बना, कितना नहीं बना, हम कुछ नहीं कह सकते क्योंकि अभी हमने गांव का चार्ज लिया है, इसलिए पूरी जानकारी नहीं है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned