छात्र ने किया अनोखा अविष्कार, घर बैठे मोबाइल की मदद से कहीं भी करा सकते हैं धमाका

 छात्र ने किया अनोखा अविष्कार, घर बैठे मोबाइल की मदद से कहीं भी करा सकते हैं धमाका
Mukesh

सीलिंग फैन की मरम्मत करते समय दिमाग में उठे सवाल के बाद किया अविष्कार

आजमगढ़. आर्थिक अभाव के कारण घर के बिगड़े सीलिंग फैन की मरम्मत करते समय दिमाग में उठे सवाल का जबाब ढूंढने में जुटा इंटर का छात्र ऐसा आविष्कार कर डाला कि उसका प्रदर्शन देख सभी की आंखें खुली की खुली रह गई। मोबाइल फोन की मदद से घर बैठे अपने लक्ष्य को ध्वस्त करने के लिए छात्र द्वारा तैयार किए गए विध्वंसक उपकरण को देख हर किसी ने दांतों तले उंगूली दबा ली।


mobile device


आविष्कारीmobile device छात्र द्वारा किए गए प्रदर्शन के बाद पुलिस और खुफिया विभाग के लोगों के कान खड़े हो गए। छात्र के हैरतअंगेज आविष्कार को देखते हुए जहां प्रशासन उस पर सतर्क निगाह डालने को मजबूर हुआ है। वहीं आम जनमानस का कहना है कि यदि यह छात्र विदेश में अपना कारनामा दिखाता तो शायद वहां की सरकार प्रोत्साहन के साथ ही इससे वह हर सुविधा मुहैया कराती जिसके कारण उस देश का नाम रोशन होता।

यह भी पढ़ें:
नर्मदा सरदार परियोजना से विस्थापित लोगों के समर्थन में PM की काशी में जल सत्याग्रह


मुबारकपुर थाना क्षेत्र के लाडो ग्राम निवासी कक्षा 11 के छात्र मुकेश पुत्र कांता चौहान की। मुकेश शहर के शिब्ली इंटर कॉलेज में इंटर विज्ञान का छात्र है। उसके पसंदीदा विषयों में भौतिक रसायन व गणित जैसे महत्वपूर्ण विषय हैं। परिवार की माली हालत ठीक न होने के कारण पढ़ाई के साथ अपना खर्च संभालने के लिए तत्पर मुकेश पहले मेले में इलेक्ट्रानिक सामान बेचने का कार्य करता रहा। मेले के दौरान किसी ने उसका सामान चुरा लिया। आर्थिक नुकसान के चलते मुकेश ने यह काम छोड़ दिया और इसके बाद इलेक्ट्रानिक उपकरणों की मदद से कुछ करने की ठानी। इसके लिए उसने खराब पड़े विद्युत उपकरणों की मदद से अपने काम को अंजाम देता रहा।

blast


मुकेश के सपनों को पंख तब लगे जब उसने अपने आविष्कार में मोबाइल फोन से निकलने वाली रेडियो एक्टिव तरंगों का इस्तेमाल किया। अपने आविष्कार को तैयार करते समय मुकेश के दिलो दिमाग में दुश्मन देशों की धमकियां बनी रही। नतीजा रहा की उसने मोबाइल फोन की मदद से अपने लक्ष्य को नेस्तनाबूत करने के लिए अजूबा यंत्र तैयार कर लिया। तैयार किए गए यंत्र का सफल परीक्षण करने के बाद मुकेश ने इसका प्रदर्शन एक पुलिस वाले के सामने किया। पुलिस वाले की दुत्कार व फटकार के बाद मुकेश विचलित नहीं हुआ। उसने अपना प्रदर्शन प्रशासनिक अधिकारियों के सामने करने का मन बनाया। इस काम में उसे कई दिनों तक किए गए प्रयास के बाद सफलता मिली। शुक्रवार को मुकेश ने उच्चाधिकारियों के सामने जब मोबाइल फोन की मदद से विस्फोट कर दिखाया तो सभी चौंक पड़े। इसके बाद तो मुकेश स्थानीय खुफिया इकाई के राडार पर चढ़ गया। एलआइयू के अभिरक्षा में मुकेश का नाम व पता के साथ ही उसके मानसिक दक्षता का भी परीक्षण किया गया। इसके बाद मुकेश को आवश्यक दिशा निर्देश देकर छोड़ दिया गया।




इंटर के छात्र मुकेश चौहान ने जिस तरह का आविष्कार कर दिखाया वह सचमुच हैरान कर देने वाला है। किशोरवय उम्र में छात्र द्वारा तैयार किए गए उपकरण को देखते हुए उसके विद्यालय के शिक्षकों से वार्ता की जाएगी। ताकि उसके आविष्कार में और निखार आए। साथ ही छात्र की हर गतिविधि पर भी सतर्क नजर रखने की जरुरत है कारण कि कोमल दिमाग के इस प्रतिभा का बेजा इस्तेमाल न हो सके।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned