आजमगढ़ में 10002 किसानों को दिये गए स्वायल हेल्थ कार्ड

आजमगढ़ में 10002 किसानों को दिये गए स्वायल हेल्थ कार्ड
स्वायल हेल्थ कार्ड

Mohd Rafatuddin Faridi | Updated: 30 Jul 2018, 11:45:06 AM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

किसानों को दी गई जानकारी कि अपने स्वायल हेल्थ कार्ड की संस्तुतियों के आधार पर ही करें खेती में उर्वरकों का प्रयोग।

आजमगढ़. मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण अभियान अन्तर्गत जनपद के सभी विकास खण्डों में कृषि विभाग के कर्मचारियों एवं सहयोगी कृषकों के द्वारा एक साथ अभियान चलाकर कुल 56 ग्रामो में 10002 कृषकों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड का वितरण किया गया।


मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण की जमीनी हकीकत जानने एवं गति प्रदान करने के उद्देश्य से सठियांव विकास खंड के रघुनाथपुर ग्राम में नोडल अधिकारी डा एके सिंह, संयुक्त कृषि निदेशक धान्य एवं फसलें, कृषि निदेशालय, लखनऊ, की अध्यक्षता में कुल 140 कृषकों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किया गया। श्री सिंह के द्वारा मृदा स्वास्थ कार्ड की उपयोगिता के बारे मे बताते हुए किसानां को सलाह दी गयी कि सभी किसान भाई अपने मृदा स्वास्थ्य कार्ड मे निहित संस्तुतियों के अनुसार ही खेती मे उर्वरकों का प्रयोग करें, इससे आप सभी को अनावश्यक उर्वरकों के प्रयोग से निजात मिलेगा तथा खेती की लागत मे कमी आयेगी, साथ ही साथ हमारा पर्यावरण भी स्वस्थ्य रहेगा तथा उच्च गुणवत्ता युक्त कृषि उत्पाद भी प्राप्त होगा, जिसका आप सभी को बाजार मे अच्छा मुल्य प्राप्त होगा एवं शासन की मंशा के अनुसार यह योजना मूर्त रूप लेगी और आप सभी की आय मे वृद्धि होगी।


इस अवसर पर संयुक्त कृषि निदेषक आजमगढ मण्डल आजमगढ सुरेश कुमार सिंह, उप कृषि निदेषक डा आरके मौर्य, जिला कृषि अधिकारी डा उमेश कुमार गुप्ता, एवं भूमि संरक्षण अधिकारी संगम सिंह एवं अन्य विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। संयुक्त कृषि निदेशक सुरेश कुमार सिंह द्वारा किसानों का आह्वान किया गया कि यदि आने वाले पीढी को हमे स्वस्थ्य बनाये रखना है तो हम सभी को अन्धाधुन्ध प्रयोग हो रहे रासायनिक उर्वरकों पर रोक लगानी होगी तथा अधिक से अधिक मात्रा में जैविक खाद, वर्मी कम्पोस्ट एवं हरी खाद के प्रयोग को बढ़ावा देना होगा, साथ ही साथ आर्थिक स्थिति मजबूत करने हेतु हर खेत के मेढ पर वृक्षारोपण भी करें। इस मौके पर ग्राम प्रधान श्रीमती मन्जू देवी, ध्यानचन्द, रामप्यारे यादव, कन्हैया लाल, सरिता देवी सहित लगभग 185 प्रगतिशील कृषक मौजूद रहे।
By Ran Vijay Singh

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned