सपा नेता बाहुबली रामाकांत यादव के पोते की गुंडई, बैटरी चोरी के आरोप में युवक को पेड़ से बंधवाकर पिटवाया

सूचना के बाद एसपी ग्रामीण सहित कई थानों की फोर्स पहुंची मौके पर

पीड़ित को छुड़ाने के साथ ही आरोपियों के खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. सपा के बाहुबली रमाकांत यादव को जहां सरकार और पुलिस से खतरा महसूस हो रहा है वहीं उनके परिवार के लोगों की दबंगई चरम पर दिख रही है। अभी हाल में पूर्व सांसद के भाई और विधायक पुत्र पर भूमि पर अवैध कब्जे का आरोप लगा था तो अब पोते पर बैटरी चोरी के आरोप में एक युवक का अपहरण कर उसे पेड़ से बांधकर पीटने का मामला प्रकाश में आया है। पुलिस ने बंधक युवक को छुड़ाने के साथ ही उसके पिता की तहरीर पर पूर्व सांसद के पोते समेत चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट पंजीकृत की है। साथ ही तनाव को देखते हुए मौके पर फोर्स तैनात कर दी गयी है।

बताते हैं कि दीदारगंज थाना क्षेत्र के अमरेथू गांव निवासी सुरेश यादव के 2 ट्रैक्टर की बैटरी चोरी हो गई थी। सुरेश ने बैट्री चोरी का आरोप गांव के ही शिवम पांडेय पर लगाया था। बैटरी बरामद न होने पर सुरेश अपने साथी रमेश यादव, दिनेश यादव के साथ शिवम पांडेय को उसके घर से अपहृत कर लिया। इसके बाद उसे अपने घर लाकर पेड़ से बांध कर पिटाई शुरू कर दी। इस दौरान पूर्व सांसद रमाकांत यादव के भाई की बहू ब्लाक प्रमुख अर्चना यादव का पुत्र टाइगर भी उनके साथ मौजूद रहा।

बेटे के अपहरण के बाद शिवम के पिता ने इसकी सूचना डायल-112 पर दी तो पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिसकर्मी शिवम को छुड़ाने का प्रयास किये तो टाइगर पुलिस से भिड़ गया। मामला गंभीर होता देख सूचना आलाधिकारियों को दी गई। चुंकि मामला पूर्व सांसद के परिवार से जुड़ा था इसलिए एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ चार थानों की पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

पुलिस ने किसी तरह शिवम आजाद कराया और थाने ले गयी। इस मामले में शिवम के पिता जितेंद्र पांडेय ने पूर्व सांसद के पोते टाइगर, सुरेश, दिनेश व रमेश के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है। एसपी ग्रामीण का कहना है कि बैटरी चोरी के आरोप में युवक को घर से उठा कर लाया गया था और पेड़ से बांध कर पिटाई की जा रही थी। सूचना पर पुलिस ने पहुंच कर युवक को छुड़ाया। पिता की तहरीर पर चार के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया है। नामजद लोगों में पूर्व सांसद का पोता भी शामिल है। आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

BY Ran vijay singh

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned