एक्सप्रेस-वे के कम मुआवजे से नाराज विधायक ने की डीएम से मुलाकात

एक्सप्रेस-वे के कम मुआवजे से नाराज विधायक ने की डीएम से मुलाकात
SP MLA Sangram Yadav

Devesh Singh | Publish: Aug, 17 2019 08:13:44 PM (IST) Azamgarh, Azamgarh, Uttar Pradesh, India

एनएच-233 के समान मुआवजा देने की मांग

रिपोर्ट:-रणविजय सिंह
आजमगढ़। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए अधिग्रहित की गयी किसानों की जमीन का उचित मुआवजा न दिये जाने के विरोध में शनिवार को सपा विधायक संग्राम यादव किसानों के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पहंुचे। विधायक ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंप एनएच-233 के समान मुआवजे के भुगतान की मांग की।

संग्राम यादव ने कहा कि अतरौलिया विधानसभा क्षेत्र से गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के लिए अधिग्रहित की गयी किसानों की कृषि योग्य भूमि का उचित मुआवजा नहीं दिया जा रहा है, जिसके कारण किसानों में आक्रोश है। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे में अधिग्रहित की गयी किसानों की भूमि का सर्किल रेट बहुत कम है, जबकि अतरौलिया बाईपास पर एनएच 233 के लिए अधिग्रहित की गयी कृषि भूमि पर सर्किल रेट 1500 से 2500 रूपये प्रतिवर्ग मीटर की दर से किसानों को भुगतान किया गया था। इसके सापेक्ष गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे पर इन्ही कृषि योग्य भूमि का मुआवजा 295 रूपये प्रति वर्ग मीटर की दर से भुगतान निर्धारित किया गया है। किसानों के साथ यह बहुत बड़ा अन्याय है। उनके साथ दोहरा मापदंड अपनाया जा रहा है। किसान अपनी समस्याओं से कई बार जिला प्रशासन से अवगत कराया लेकिन किसी ने संज्ञान में नहीं लिया। उन्होने कहाकि यह क्षेत्र जिला मुख्यालय से काफी दूर एवं पिछड़ा हुआ है। यहां के लोगों की आजीविका का मुख्य स्रोत कृषि ही है। इसलिए गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे के लिए अधिग्रहित की गयी भूमि का मुआवजा एनएच 233 के मुआवजे को ध्यान में रखकर ही दिलाया जाय। इस अवसर पर चन्द्रेश यादव, चन्द्रजीत यादव, धीरेन्द्र श्रीवास्तव, दिलीप सिंह, अतुल मिश्रा, धर्मेन्द्र वर्मा, सकलू यादव, संतराम यादव, प्रदीप आदि किसान मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned