किसानों की खेती के लिए काल बना चीनी मिल का केमिकलयुक्त पानी, बंजर हो रही जमीन

पानी से उठने वाली बदबू के कारण लोगों का कस्बे में सांस तक लेना दूभर है

By: Ashish Shukla

Published: 18 Dec 2018, 06:02 PM IST

आजमगढ़. चीनी मिल सठियांव की ओर से फैक्ट्री से केमिकल युक्त पानी को लगातार मिल के बाहर बहाया जा रहा है। यह पानी किसानों के खेत में पहुंचकर उसे बंजर बना रहा है। किसानों की ओर से इसका विरोध भी किया गया लेकिन मिल प्रबंधन ने इस पर ध्यान नहीं दिया। परिणामस्वरूप इस पानी से उठने वाली बदबू के कारण लोगों का कस्बे में सांस तक लेना दूभर है। वहीं, मच्छर और मक्खियों का प्रकोप भी बढ़ गया है।

दि किसान सहकारी चीनी मिल सठियांव में स्थित आसवानी प्लांट में सल्फर और चूने के प्रयोग से सीरा बनाने का कार्य किया जाता है। इसके बाद मिल प्रबंधन द्वारा इस केमिकल युक्त पानी को मिल के बाहर रेलवे पटरी के किनारे छोड़ दिया जा रहा है। यह नालों से होता हुआ किसानों के खेतों तक पहुंच रहा है। यह केमिकल फसलों और खेतों के लिए कितना हानिकारक है, इसका अंदाजा रेलवे पटरी के किनारे लगे पेड़ों को देखकर लगाया जा सकता है। यह केमिकल युक्त पानी जिस पेड़ की जड़ तक पहुंचा वह सूख गया है। इस पानी से सबसे ज्यादा नुकसान सुराई और हरैया के किसानों को उठाना पड़ रहा है। इस पानी से उठने वाली बदबू ने आसपास रहने वाले ग्रामीणों का सांस लेना भी दूभर कर दिया है। इससे मच्छर और मक्खियों का प्रकोप भी काफी बढ़ गया है। क्षेत्र के लोग मच्छर और मक्खियों से मुक्ति के लिए दवा छिड़काव की मांग करने लगे हैं। इस पानी को बंदर करने के लिए किसानों ने कई बार हंगामा किया लेकिन मिल प्रबंधन द्वारा उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया गया।

किसानों के अनुसार यह केमिकल युक्त पानी रेलवे लाइन के किनारे से होता हुआ हमारे खेतों में पहुंचकर फसलों को बर्बाद कर ही रहा है। इसके कारण मच्छरों और मक्खियों का प्रकोप भी बढ़ गया है। किसान अमरजीत यादव ने कहा कि इस पानी से उठने वाली बदबू के कारण सांस लेना भी दूभर हो गया है। मच्छर और मक्खियों के प्रकोप से छुटकारा दिलाने के लिए दवा का छिड़काव किया जाना चाहिए। इस पानी को बंद करने के लिए हमने कई बार आवाज उठाई लेकिन हमारी बातों पर मिल प्रबंधन ने ध्यान नहीं दिया।

Ashish Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned