मतदाता दिवसः अनिवार्य मतदान की दिलाई गई शपथ

मतदाता दिवसः अनिवार्य मतदान की दिलाई गई शपथ
azamgarh

Ashish Kumar Shukla | Publish: Jan, 25 2018 10:31:26 PM (IST) Azamgarh, Uttar Pradesh, India

अधिकारियों ने दिलाई अनिवार्य मतदान की शपथ

रणविजय सिंह की रिपोर्ट...

आजमगढ़. 8वें राष्ट्रीय मतादाता दिवस के अवसर पर मण्डलायुक्त के.रविन्द्र नायक ने अपने कार्यालय के सभागार में उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को लोकतान्त्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखने तथा अनिवार्य रूप से मतदान करने की शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा के आधार पर मतदान करना लोकतान्त्रिक परम्पराओं के लिये घातक है। इसलिये हम सभी को इन सब बातों से ऊपर उठ कर लोकतान्त्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखने के लिये सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग हर हालत में करना चाहिए। मण्डलायुक्त ने कहा कि मात्र शपथ ले लेने से ही हमारी ज़िम्मेदारियॉ पूरी नहीं हो जाती बल्कि यह शपथ तभी सार्थक सिद्ध होगीं जब हम अपने साथ-साथ अपने परिवार, मुहल्ले टोले गावॅ वालों आदि को भी इस ओर दृढ़ संकल्पित करें। शपथ ग्रहण के अवसर पर अपर आयुक्त राजेन्द्र कुमार, संयुक्त विकास आयुक्त हरिश्चन्द्र वर्मा, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या राजाराम यादव,सहायक आयुक्त औषधि राजीव बिन्दल, सहायक आयुक्त खाद्य चन्द्रकिशोर,टीएसी कौशल किशोर प्रजापति, सहित अन्य विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

 

वहीं,

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार गुरूवार को कुंवर सिंह उद्यान में राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान जहां लोगों को मतदान की शपथ दिलाई गई वहीं मतदाता के अधिकारों से भी अवगत कराया गया। पीसीआई नेशनल क्वीज के अन्तर्गत आयोजित जिला स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली तृषा यादव तथा गरिमा गुप्ता को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि लोकतन्त्र में हम रहते है और लोकतन्त्र से अच्छी व्यवस्था कोई नही है। मतदाता में जागरूकता पैदा करने से मतदान का प्रतिशत बढ़ता है जिससे देश में जो सरकार बनती है वह पूर्ण बहुमत की सरकार बनती है। जिससे देश का विकास के साथ-साथ जनता का जीवन स्तर में सुधार होता है। उन्होने बताया कि इस समय मतदाता पुनरीक्षण का कार्य चल रहा है कोई भी मतदाता अपना नाम मतदाता सूची में बीएलओ के माध्यम से जोड़ सकता है।


उन्होने कहा कि 18 वर्ष से उपर के आयु वर्ग के यूवा मतदाता सूची में अपना नाम जोड़वा कर अपने मताधिकार का चुनाव में करे। उन्होने बताया कि मतदाता पुनरीक्षण का कार्य निरन्तर चलता रहता है। और लोगों में इसके प्रति जागरूकता अभियान के तहत जागरूक भी किया जा रहा है। जिसका परिणाम है कि वोटिंग का प्रतिशत बढ़ा है। और जब वोटिंग का प्रतिशत बढ़ता है तो पूर्ण बहुमत की सरकार बनती है।


जिला निर्वाचन अधिकारी ने आगे कहा कि मतदान संवैधानिक एवं लोकतान्त्रिक अधिकार है। उन्होने बताया कि 25 जनवरी को 1950 को भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी और लोगों में मतदान के प्रति लोगों में जन-जागरूकता लाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय मतदाता दिवस का अयोजन किया जाता है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार वर्ष 2011 से प्रारम्भ हुई और इस बार 8वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जा रहा है।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन लवकुश कुमार त्रिपाठी ने अपने सम्बोधन में कहा कि लोक तान्त्रिक व्यवस्था में वोट का विशेष महत्व है। चुनाव एक यज्ञ है तथा वोट आहूति है। इस भावना के साथ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग चुनाव के समय अवश्य करें। उनके एक-एक वोट काफी महत्वपूर्ण होते है इसलिए मतदाता बढ़-चढ़ कर चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करें।

 

इस असवर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी/मुख्य राजस्व अधिकारी अलोक कुमार वर्मा, उप जिलाधिकारी सदर प्रशान्त कुमार, अपर जिला सूचना अधिकारी अंजनी कुमार मिश्र, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा0 बीके अग्रवाल, तहसीलदार सहित समाज सेवी प्रवीण सिंह, सिद्धार्थ सिंह, हवलदार सिंह, राजेन्द्र प्रसाद यादव आदि उपस्थित रहे।

 

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned