योगी सरकार से नाराज शिक्षकों ने दी आंदोलन की चेतावनी

योगी सरकार से नाराज शिक्षकों ने दी आंदोलन की चेतावनी
Movement warning

दस दिन के भीतर धनराशि खाते में जमा न होने पर आंदोलन की चेतावनी

आजमगढ़. एनपीएस की कटौती की धनराशि सम्बन्धित शिक्षकों के खातों में शासकीय अंशदान एवं ब्याज सहित समायोजित न होने से शिक्षक नाराज है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (रामजन्म सिंह गुट) की रविवार को हुई बैठक में समस्‍या पर चर्चा गई। दस दिन के भीतर धनराशि खाते में जमा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई। इस दौरान संगठन विस्‍तार की भी रणनीति बनाई गई।


प्रांतीय अध्यक्ष रामजन्म सिंह ने कहा कि हमारी  पीढ़ी के शिक्षकों ने त्याग बलिदान के रास्तें पर चलते हुए संघर्षो के माध्यम से जो उपलब्धियां अर्जित की थी उसे भ्रष्ट एव विलासी नेताओं ने खो दिया। पेंशन, जीपीएफ, पारिवारिक पेंशन  आदि को पुनः अब संघर्षो के माध्यम से ही प्राप्त किया जा सकता हैं, यह संघर्ष नौजवान पीढ़ी ही कर सकती हैं। हमारा संगठन युवाओं का नेतृत्व एवं संरक्षण करने के लिए तैयार है।


जिलाध्यक्ष इरफान अहमद ने कहा कि शिक्षकों की भावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए यदि दस दिनों के अंदर एनपीएस की कटौती की धनराशि सम्बन्धित शिक्षकों के खातों में शासकीय अंशदान एवं ब्याज सहित समायोजित एवं दर्शायी नहीं जाती है तो संगठन निर्णायक सत्याग्रह करने के लिए तैयार है। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय से अपील किया कि एनपीएस की कटौती खातो में जमा करने हेतु अविलम्ब कार्यवाही करें अन्यथा सत्याग्रह का सामना करने को तैयार रहे।


यह भी पढ़ें:
संभावित बाढ से निबटने के लिए NDRF तैयार, किया रिहर्सल


अहमद ने कहा कि यदि पड़ोसी जनपदों में यह कटौती शिक्षकों के खातों मे जमा दर्शायी जा रही है तो कोई कारण नहीं कि हमारे जनपद में यह कार्य सम्पन्न न कराया जा सके। प्रांतीय मंत्री वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि संगठन का जन्म ही प्रबंधकीय दासता से मुक्ति के लिए हुआ था किंतु कुछ भ्रष्ट शिक्षक नेताओं की मिलीभगत से लोक शिक्षा परिषद इंटर कालेज सरदहां, तपेश्वरी देवी जायसवाल इंटर कॉलेज सरदहा, यशोदा लाल मिश्र उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बड़ागांव के प्रधानाचार्यों को अकारण ही प्रताड़ित किया जा रहा है। प्रधानाचार्यों के सम्मुख विद्यालय के सफल संचालन में बाधा उत्पन्न की जा रही है। संगठन ऐसे प्रबंधकों को इतिहास के कूड़ेदान में फेंक देने के लिए कृत संकल्पित हैं। उन्होंने प्रधानाचार्यो को आश्वासन दिया कि संगठन उनके साथ पूरी शक्ति के साथ खड़ा हैं।


जिलामंत्री पंकज कुमार सिंह ने कहा कि संगठन माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड द्वारा चयनित शिक्षकों का जनपद में स्वागत करता हैं उन्होंने कहा कि यदि इन नवागत शिक्षकों को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय अथवा प्रबंधकों के कार्यालय में किसी असुविधा का सामना करना पड़ता है तो संगठन को अवश्य अगवत कराये। संगठन उनके हित को सुरक्षित करने के लिए तत्पर हैं। अध्‍यक्षता जिलाध्यक्ष इरफान अहमद व संचालन कोषाध्यक्ष शेरबहादुर सिंह यादव ने किया।


बैठक में जर्नादन सिंह, श्यामनरायन सिंह, जीत बहादुर यादव, राजेन्द्र यादव, दिनेश प्रताप सिंह, दिनेश यादव, फरगाम अहमद, रामनवल सिंह, ज्वाला प्रसाद, हरिश्चन्द्र, अशोक सिंह, नरेन्द्र सिंह, अतुल सिंह, ओमकार, हेमराज, श्रवण यादव, लालजीत सिंह, प्रेमचन्द श्रीवास्तव, बेलाल अहमद, विवेक सिंह, तारिक एजाज, फरहान अहमद, कोमल यादव, अवधेश कुमार, संजय यादव, श्रीराम यादव, राजेश, नरेन्द्र भूषण शाही, नुरूद्दीन, तौफीक, सुरेन्द्र सिंह, प्रमोद श्रीवास्तव, शिवकुमार विश्वकर्मा, पारसनाथ यादव, विरेन्द्र कुमार सिंह, रामप्यारे, विनोद सिंह, अभय लाल श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned